Loading...    
   


कोरोना की वजह से रोम एयरपोर्ट पर फंसी इंदौर की युवती | INDORE NEWS

इंदौर। कोरोना के खौफ से पूरी दुनिया सहमी हुई है। भारत में भी इसके डर से स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए हैं। साथ ही सार्वजनिक स्थलों पर लोगों की गैदरिंग भी रोक दी गई। चीन के बाद कोरोना वायरस की वजह से सबसे भयावह स्थिति इटली में है। इटली में पूरी तरह से लॉकडाउन है। सड़कों पर विरानगी छाई हुई है। इस बीच भारत आने के इंतजार में रोम एयरपोर्ट पर इंदौर की बेटी दो दिनों से फंसी हुई है। कोरोना वायरस की वजह से मध्यप्रदेश में भी स्कूल और कॉलेज बंद हैं। ऐसे में इंदौर की रहने वाली डियाना कस्तूरी पिछले दो दिनों से इटली के रोम एयरपोर्ट पर फंसी हुई। डियाना वहां करीब डेढ़ महीने पहले गई थी। वहां से कस्तूरी मास्टर्स इन ज्वैलरी डिजाइन का कोर्स कर रही है। 11 मार्च को इटली के रोम से वापसी का टिकट था। भारत सरकार के नए नियमों के अनुसार किसी भी व्यक्ति को कोविड-19 की जांच रिपोर्ट के बिना भारत वापसी की इजाजत नहीं है।

रोम में सड़कों पर सन्नाटा पसरा है, सभी बाजार बंद है, खुली हैं तो सिर्फ फॉर्मेसी की दुकानें हैं। ऐसे में डियाना 11 मार्च को भारत लौटने के लिए एयरपोर्ट पर पहुंची। मगर वह लौट नहीं पाई। उसके बाद से एयरपोर्ट पर ही रुकी है। वहां खाने के लिए भी कुछ नहीं मिल रहा है। डियान कस्तूरी ने रोम से अपना एक वीडियो बारह मार्च को जारी किया है। साथ ही भारत सरकार से मदद की मांग की है। 30 घंटे तक एयरपोर्ट पर रुकी डियाना के अनुसार नए नियमों के अनुसार रोम से भारत आने के लिए फिट-टू-फ्लाय सर्टिफिकेट की जरूरत है। वह एयरपोर्ट तो पहुंची लेकिन एयर इंडिया के लोगों ने सर्टिफिकेट नहीं होने की वजह से उसे फ्लाइट पर चढ़ने नहीं दिया। तीस घंटे वह किसी तरह भारत लौटने के प्रयास में एयरपोर्ट पर रुकी लेकिन कामयाब नहीं हुई। उसके बाद उसे फिर उसी जगह पर लौटकर जाना पड़ा जहां वह रुकी हुई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार डियाना ने बताया है कि इटली पूरी तरह से बंद है। यहां का माहौल काफी डराने वाला है। सड़कें सुनसान हैं। स्थिति ऐशी उत्पन्न हो गई है कि यहां न तो सैनिटाइजर मिल रहे हैं और न ही मास्क। अगर लोग बिना किसी कारण के एक जगह से दूसरी जगह जाते हैं तो 150 यूरो का जुर्माना लग सकता है। सारे ऑफिस और पब्लिक ट्रांसपोर्ट बंद हैं। यूनिवर्सिटी की क्लासेज बंद हैं। ऑनलाइन पढ़ाई हो रही है। डियाना के अनुसार इटली में अभी भी कई लोग फंसे हैं। वहां के डॉक्टर नहीं करते जारी वहीं, इंदौर में रह रहे डियाना के परिजनों ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इटली के डॉक्टरों के पास वह गई तो उनलोगों ने कहा कि हम फिट टू फ्लाय जैसा सर्टिफिकेट इश्यू नहीं करते। एयर इंडिया का कहना है कि हम बिना इसके चेक इन नहीं करने दे सकते हैं। हालांकि भारतीय दूतावास के लोग बारी-बारी से यात्रियों को जांच के लिए बुला रहे हैं।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here