Loading...    
   


होटल सायाजी में घुसा जंगली सुअर, दुल्हन का भाई गंभीर रूप से घायल | BHOPAL NEWS

भोपाल। राजधानी के बड़े होटल में शामिल सायाजी में जंगली सुअर घुस आया। घटना के वक्त शादी कार्यक्रम चल रहा था। सुअर के हमले से दुल्हन का भाई गंभीर रूप से घायल हो गया। घटना 6 मार्च की सुबह करीब साढ़े 5 बजे की है। होटल प्रबंधन ने 2 दिन तक मामले को दबाए रखा। वहीं, कमलानगर पुलिस ने केस दर्ज करने से इनकार कर दिया।   

बैतूल के पाथाखेड़ा निवासी देवेंद्र भादे सारनी में वेस्टर्न कोल फील्ड में अधिकारी हैं। उनका बेटा मयूर ठेकेदारी करता है। देवेंद्र की बेटी मोनिका आस्ट्रिया की राजधानी वियाना में रहती हैं। 4 मार्च को मोनिका की वियाना निवासी आंद्रेस से शादी हुई। इसमें आस्ट्रिया से आने वाले मेहमानों के लिए 14 कमरे, हॉल और गॉर्डन बुक किया था। 1 मार्च से यहां सभी मेहमान ठकरे थे।

देवेंद्र ने बताया कि मेहमानों की 5 मार्च को सुबह फ्लाइट थी। सभी विदेशी मेहमान चेकआउट के लिए सुबह करीब साढ़े 5 बजे होटल के रिसेप्शन पर आए। उनका बेटा मयूर भी मेहमानों के साथ था। इसी दौरान उसे एक जंगली सुअर आता दिखा। उसने चिल्लाकर मेहमानों से हटने के लिए कहा। सुअर को देख मेहमान बाथरूम और रिसेप्शन के पीछे की तरफ छुप गए। 

मेहमानों को सुरक्षित करते समय सुअर ने मयूर पर हमला कर दिया। उसकी जांघ और पैर के मांस को नोंच लिया। इसके बाद सुअर काफी देर तक होटल में घूमता रहा। मयूर ने होटल प्रबंधन से डॉक्टर बुलाने और फर्स्टएड करने के लिए कहा, लेकिन कोई सामान नहीं था। इसके बाद बेटी की आस्ट्रिया से आई सहेली एलिजाबेथ ने अपने बैग से फर्स्टएड का सामान निकाला और बेटे की पट्टी की। 

देवेंद्र ने बताया कि मेहमानों की फ्लाइट थी, इसलिए वह मेहमानों को छोड़ने के बाद बेटे को इलाज के लिए चिरायु अस्पताल लेकर पहुंचे। उसे रैबीज के इंजेक्शन लगवाए। इसके बाद उसे रोहित नगर के एक अस्पताल में दिखाया। यहां बेटे का ऑपरेशन किया गया है। बेटा मयूर अभी भी अस्पताल में भर्ती है। उसके शरीर पर करीब 10 सेंटीमीटर लंबे और गहरे जख्म हैं। 

देवेंद्र का कहना है कि इस संबंध में वन विभाग की टीम को करीब 6 बजे सूचना दी गई। लेकिन, वन विभाग की टीम 11 बजे होटल पहुंची। लेकिन, सुअर पकड़ने में असफल रही। सुअर होटल में ही कहीं छिप गया। पता चला है कि शाम को वह जंगल की तरफ भाग गया। घटना की शिकायत के लिए हमारा परिवार 2 दिन से थाने के चक्कर लगा रहा है। पुलिस दबाव में मामला दर्ज नहीं कर रही है। पुलिस का कहना है कि मामला किसके खिलाफ दर्ज करें। जबकि होटल में रुके लोगों की सुरक्षा की जिम्मेदारी प्रबंधन की होती है। देवेंद्र ने कहा कि उन्होंने होटल में शादी के लिए करीब 14 लाख रुपए का भुगतान किया था। मेहमानों के लिए 14 कमरे बुक कराए थे। लेकिन, अब प्रबंधन पल्ला झाड़ रहा है।

वर्जन 
होटल के गार्ड रूपेश ने सुअर को रोकने का 2 बार प्रयास किया था। जंगली सुअर था, उसने उसे ही उठाकर फेंक दिया। सबकुछ इतनी तेजी से हुआ कि कोई क्या कर सकता है। होटल में इस तरह की घटना पहली बार हुई है। इसमें हमारी लापरवाही कहां है। घटना का हमें दुख है।
प्रनय सोनी, मैनेजर, सायाजी होटल


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here