एयरपोर्ट सुरक्षा चूक: गांधीनगर टीआई लाइन हाजिर, SF के 4 जवान सस्पेंड | BHOPAL NEWS
       
        Loading...    
   

एयरपोर्ट सुरक्षा चूक: गांधीनगर टीआई लाइन हाजिर, SF के 4 जवान सस्पेंड | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश के भोपाल में राजा भोज एयरपोर्ट की सुरक्षा में सेंध के लिए केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) की महानिदेशक (DG) नीलिमा रानी सिंह ने प्रथम दृष्टया स्थानीय पुलिस को जिम्मेदार माना है। एयरपोर्ट की सुरक्षा को लेकर विभागीय समीक्षा बैठक में उन्होंने यह बात कही है। CISF के अधिकारियों से भी सवाल-जवाब किए। इस मामले में संबंधित थाना प्रभारी को लाइन हाजिर और SF (स्पेशल फोर्स) के चार जवान निलंबित किए गए हैं। 

CISF DG दिल्ली सही भोपाल पहुंची

गौरतलब है कि रविवार शाम राजा भोज एयरपोर्ट में योगेश त्रिपाठी नामक सिरफिरा घुस गया था। वह रन-वे तक पहुंच गया और स्पाइस जेट की उड़ान के सामने खड़ा हो गया जिसके कारण अभिमान को रोकना पड़ा, उसके इंजन बंद कर दिया जाए। उसने एक हेलीकॉप्टर पर भी पत्थर फेंके थे। सीआइएसएफ डीजी मामले की जानकारी लेने दिल्ली से भोपाल पहुंची। जांच में पता चला कि आरोपित योगेश स्टेट हैंगर से होकर एयरपोर्ट में घुसा था। पुलिस ने आरोपित को सोमवार दोपहर कोर्ट में पेश कर पांच दिन की रिमांड पर लिया। गांधी नगर थाना प्रभारी तरुण सिंह भाटी को लाइन हाजिर करने के साथ एसएफ के चार जवानों को निलंबित किया गया है।

पुलिस हिरासत में जय श्रीराम के नारे लगा रहा है आरोपी

बताया गया है कि युवक थिएटर आर्टिस्ट (रंगकर्मी) है। उसने खुद को सीआइएसएफ का जवान बताकर एक कार्ड भी दिखाया था। इसके बाद ड्यूटी पर तैनात SF के जवान ने उसे अंदर जाने दिया था। गांधी नगर के थाना प्रभारी तरुण भाटी के अनुसार, आरोपित पुलिस को सहयोग नहीं कर रहा है। वह किसी सवाल का सही जबाव नहीं दे रहा है। आरोपित की मां का कहना है कि वह दो दिन से असामान्य बातें कर रहा था। जबकि युवक पुलिस हिरासत के दौरान जयश्री राम के जयकारे लगा रहा है। पुलिस की जांच में सामने आया है कि आरोपित आर्मी का पेंट, फोर्स जैसा हेयर कट करवाकर अंदर गया था। इसके कारण जवान उसे पहचान नहीं सके।

सेंट्रल इटेलीजेंस की टीम भी पहुंची

सेंट्रल इटेलीजेंस की टीम ने भी गांधी नगर थाने में आरोपित योगेश से पूछताछ की। इंटेलीजेंस के एक अधिकारी ने नाम न बताने शर्त पर बताया है कि हम यह जानना चाह रहे हैं कि इतनी सुरक्षा के बीच युवक कैसे पहुंचा? स्टेट इंटेलीजेंस और एंटी टेरिस्ट स्क्वॉड के अधिकारी भी थाने पहुंचे और मामले की जानकारी ली।

पुलिस से बोला-मैं तो पंछी हूं, हथकड़ी क्यों पहनाई?

आरोपित योगेश गांधी नगर थाने में जय श्रीराम के नारे लगा रहा है। पुलिस के सामने कहानी सुना रहा है कि वह आसमान से सीधा प्रकट हुआ है। पुलिस उससे पूछताछ करने की कोशिश करती है तो वह अपने आप को पंछी बताता है और कहता है कि पंछी को हथकड़ी लगाकर क्यों रखी है। इसे खोलो तब बताऊंगा। वह बीच-बीच में कई बार हंसता भी है।

स्टेट हैंगर पर कोई सुरक्षा नहीं, CCTV कैमरा तक नहीं

घटना ने स्टेट हैंगर पर सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है। यहां न तो सीसीटीवी लगे हैं, न ही मेन गेट पर कोई अधिकारी तैनात रहता था। फ्लाइंग क्लब के सदस्य तीन साल पहले एक्सपायर हो चुके आईडी कार्ड से प्रवेश ले रहे थे।