जीतू सोनी: रेप पीड़िता को 14 चाकू मारे, गंभीर | INDORE NEWS
       
        Loading...    
   

जीतू सोनी: रेप पीड़िता को 14 चाकू मारे, गंभीर | INDORE NEWS

इंदौर। जीतू सोनी के खिलाफ गैंगरेप का मामला दर्ज कराने वाली पीड़ित महिला पर जानलेवा हमला हुआ है। बाइक सवार हमलावर ने महिला को चाकुओं से गोद डाला। उसके शरीर पर 14 गहरे घाव हैं। महिला को गंभीर हालत में अस्पताल में दाखिल किया गया है।

पुलिस के मुताबिक, सीसीटीवी फुटेज के आधार पर दो संदिग्ध लोगों को हिरासत में लिया गया है। ये दोनों संदिग्ध वारदात के वक्त घटनास्थल पर देखे गए थे। घटना बुधवार को इंदौर के संयोगितागंज में हुई जहां दो बाइक सवार नकाबपोश लोगों ने महिला पर चाकू से हमला कर दिया। महिला अपने भाई के साथ किसी काम से जा रही थी, तभी उस पर वार किया गया। बाद में उसे बगल के एक अस्पताल में ले जाया गया जहां उसे 14 टांके लगे हैं।

मध्य प्रदेश पुलिस ने जीतू सोनी के खिलाफ 58 मामले दर्ज किए हैं जिनमें गैंगरेप, रेप, फिरौती, ब्लैकमेल और मानव तस्करी के आरोप शामिल हैं। जीतू सोनी फिलहाल फरार चल रहा है जिसकी गिरफ्तारी के लिए पुलिस ने एक लाख रुपये इनाम का ऐलान किया है। इंदौर पुलिस ने जीतू सोनी के खिलाफ तब कार्रवाई शुरू की जब उसने एक पूर्व बीजेपी मंत्री लक्ष्मीकांत शर्मा और श्वेता स्वप्निल जैन के विवादास्पद रिकॉर्डेड वीडियो को प्रसारित कर दिया था। जीतू सोनी इंदौर में एक सांध्य अखबार (संझा लोकस्वामी) चलाता है। श्वेता स्वनिल जैन का नाम हनी ट्रैप स्कैंडल में प्रमुख आरोपी के तौर पर दर्ज है।

पुलिस ने जीतू सोनी के होटल पर भी छापा मारा था जहां से एक अवैध डांस बार चलाया जा रहा था। इस दौरान 67 महिलाओं और बच्चों को बचाया गया था। हालांकि इस कार्रवाई के बाद जीतू सोनी फरार हो गया, लेकिन पुलिस ने उसकी अवैध रूप से बनाई गई इमारतों को तोड़ दिया है और एक हेल्प डेस्क शुरू की है जहां उसके पीड़ित अपने मामले दर्ज करा सकते हैं। जीतू सोनी ने अपने वकीलों के माध्यम से सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया, लेकिन उसे राहत नहीं मिल पाई है। इंदौर पुलिस पिछले दो महीने से सोनी का पता लगाने की कोशिश कर रही है, लेकिन अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई है।

ज्ञात हो कि जीतू सोनी एक मीडिया हाउस का संचालक है और उन्होंने पिछले दिनों हनीट्रैप मामले में नौकरशाहों, आरोपी महिलाओं, नेताओं के गठजोड़ का खुलासा किया था। सोनी ने कई ऑडियो और वीडियो जारी किए थे, जो इस गठजोड़ की कहानी बयां करते थे। इस मामले में सोनी के अधिवक्ता ने हाईकोर्ट में हार्डडिस्क भी पेश की थी, जिसमें कई घंटों की आडियो और वीडियो क्लिप है।