Loading...    
   


अतिथि शिक्षकों ने कमलनाथ के​ लिए खून के दिए जलाए, तांत्रिक यज्ञ कराया | MP NEWS

भोपाल। राजधानी के शाहजहांनी पार्क में लगातार छह दिन से धरना प्रदर्शन कर रहे अतिथि शिक्षकों ने गुरुवार को तांत्रिक यज्ञ कराया, जिससे कमलनाथ सरकार को सद्बुद्धि आ जाए। असल में कमलनाथ सरकार ने स्कूलों में पढ़ाने वाले अतिथि शिक्षकों को तीन महीने में नियमित करने का वादा किया था, ये उनके वचनपत्र में भी शामिल था लेकिन उन्होंने इसे पूरा नहीं किया। अपनी मांगों पर अडिग अतिथि शिक्षकों का सब्र टूट गया तो पूरे प्रदेश से आकर राजधानी के शाहजहांनी पार्क में धरना देने लगे। उन्होंने अतिथि विद्वानों के साथ ही धरना प्रदर्शन कर रहे हैं। 

मिली जानकारी के अनुसार, गुरुवार को अतिथि शिक्षकों ने अघोरी बाबा को शाहजहांनी पार्क बुलाया और तांत्रिक यत्र कराया। आंदोलन के छठवें दिन तांत्रिक यज्ञ कराया। इसमें बड़ी संख्या में अतिथि शिक्षकों ने भाग लिया और हवन किया। अतिथि शिक्षक समन्वय समिति के प्रदेश अध्यक्ष सुनील सिंह परिहार का कहना है कि वे सरकार को वचन याद दिला रहे हैं। हमने सरकार से मांग रखी है कि हमें जो वेतन और भत्ते मिल रहे हैं। उसमें ही नियमित कर दें। हम अगले छह महीने तक कोई आंदोलन नहीं करेंगे। 

अतिथि शिक्षकों ने अपना खून डालकर जलाए दीये
नियमितीकरण की मांग को लेकर स्कूलों में पढ़ाने वाले अतिथि शिक्षकों ने बुधवार को नए साल पर प्रतीकात्मक रूप से दीयों में अपना रक्त डालकर विरोध दर्ज कराया था (खून के दीये जलाए)। शिक्षकों का कहना है कि हम सरकार को उनका वचन याद दिला रहे हैं। 


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here