Loading...

GCA कंपनी ने दुगनी रकम का लालच देकर 98 लाख रुपए की ठगे | JABALPUR NEWS

जबलपुर। शहर में ठगी का एक और मामला सामने आया है। जिसमें एक प्राइवेट लिमिटेड कंपनी के संचालक ने दो साथियों के साथ मिलकर लोगों के 98 लाख रुपए ठग लिए। रुपए डबल करने का झांसा देकर की गई ठगी के मामले में पुलिस ने प्रकरण दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरु कर दी है। मां शक्ति काम्प्लेक्स के समीप वर्ष 2008 में जीसीए प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का आफिस खुला, जहां पर कंपनी के संचालक प्रीतम सिंह व उसके मैनेजर राकेश व कमलकिशोर शर्मा (Company Director Pritam Singh, manager Rakesh and Kamalkishore Sharma) ने लोगों को रुपया डबल करने कहकर आकर्षित किया।  

शुरुआती दौर में तो लोगों को उनकी रकम दोगुनी मिली, लेकिन जैसे ही इस बात की खबर फैली तो कई लोगों ने कंपनी में रुपया जमा करना शुरु कर दिया, जिसमें अनंत पालसिंह, विश्वेश्वर झारिया, पाईलाल, देवीसिंह, अमित श्रीवास, विजय कुमार, अशोक कुमार दीप्ति पटैल, आशीष जैन, कृष्णा सहित कई लोगों ने प्रीतम के पास रुपया जमा कर दिया। करीब 6 साल बीतने के बाद जमाकर्ता कंपनी के आफिस पहुंचे तो प्रीतम ने उन्हे यह कहते हुए टाल दिया कि अभी आपका रुपया जल्द ही मिल जाएगा, जितनी देर होगी उतना ही फायदा है। प्रीतम के झांसे में आए लोग भी लौट गए कि चलो आज नहीं तो कल रुपया तो वापस तो मिल ही जाएगा।

काफी समय बीत गया लेकिन जमाकर्ताओं को रुपया वापस नहीं मिला तो उन्होने प्रीतम पर दबाव बनाना शुरु कर दिया, लोगों के बढ़ते दबाव के चलते प्रीतम व उसके दोनों मैनेजर आफिस बंद कर भाग निकल, कुछ दिन बाद जब लोग पहुंचे तो देखा कि आफिस में ताला लगा मिला, पूछताछ करने पर पता चला कि यह आफिस तो बंद हो गया। अपना रुपया डूबता नजर आने पर पीडि़तों ने अपने स्तर पर तलाश की लेकिन कंपनी के संचालक से लेकर मैनेजरों के बारे में कोई जानकारी हासिल नहीं हुई। 

जिस पर पीडि़तों ने थाना पहुंचकर पुलिस को घटना की जानकारी दी है, पुलिस ने मामले में जांच के बाद प्रीतम सिंह व उसके दोनों साथियों के खिलाफ प्रकरण दर्ज कर तलाश शुरु कर दी है। चर्चाओं में यह बात भी सामने आई है कि प्रीतम व उसके साथियों ने एजेंट भी नियुक्त किए थे। जो जबलपुर के अलावा आसपास जिलों में जाकर कंपनी की प्रचार प्रसार कर रुपया जमा कराते रहे। जिससे यह बात तो साफ है कि प्रीतम व उसके साथियों ने रुपया डबल करने का झांसा देकर करोड़ों रुपए की ठगी की है।