Loading...

जेंडर चेंज कराकर पलक तिवारी बने हरीश तिवारी ने सुसाइड कर लिया | INDORE NEWS

इंदौर। अपने दोस्त से शादी कर्रने के लिए हरीश तिवारी ने 4 महीने पहले जेंडर चेंज करवाया था। उसके बाद वो पलक तिवारी बन गया था परंतु मेडीकल साइंस की यह सर्जरी सफल नहीं हो पाईं। पलक वापस हरीश नहीं बन सकता था और जेंडर चेंज के बाद वो पूरी तरह से महिला भी नहीं बन पाया था। अंतत: हरीश तिवारी उर्फ पलक तिवारी ने आत्महत्या क ली। 

पुलिस के अनुसार प्रजापत नगर में रहने वाली 26 वर्षीय पलक तिवारी ने फांसी लगा कर जान दे दी है। परिजन ने पुलिस को सिर्फ इतना बताया कि वह डिप्रेशन में थी। इससे ज्यादा जानकारी देना नहीं चाहते थे। उधर, पुलिस ने अपनी पड़ताल में पाया कि एक अपार्टमेंट में रहने वाले रोहित तिवारी नामक युवक ने द्वारकापुरी निवासी पलक से प्रेम विवाह किया था। पलक पहले हरीश नाम से जानी जाती थी। वह बचपन से लड़की जैसा ही दिखता था। रोहित एक निजी कॉलेज में पढ़ाने जाता था। दोनों आठ साल तक लिव ईन रिलेशनशिप में रहे। फिर 4 महीने पहले जेंडर चेंज करवाकर हरीश से पलक बन गई। 

जेंडर चेंज करवाने के दौरान पलक को खासी परेशानी हुई। तब से ही उसका स्वास्थ्य खराब रहने लगा और उसे यूरिन में भी प्राबलम होने लगी। फिर उसने दूसरा ऑपरेशन भी करवाया, लेकिन उससे कोई फायदा नहीं हुआ। इससे वह खासी डिप्रेशन में थी। इसकी के चलते उसने शनिवार रात फांसी लगाकर जान दे दी। पुलिस ने मर्ग कायम कर जिला अस्पताल में पोस्टमॉर्टम करवाकर शव परिजन को सौंप दिया है।