Loading...

RSS कार्यकर्ता सुधाकर मराठा भोपाल जेल में शिफ्ट, पत्नी ने दिग्विजय सिंह की साजिश बताया

भोपाल। देवास, मंदसौर एवं इंदौर के आसपास इलाकों में सक्रिय सुधाकरराव प्रभुणे और सुधाकर मराठा को निंबाहेड़ा जेल से भोपाल जेल में शिफ्ट किया गया है। सुधाकर की पत्नी गीता का कहना है कि यह पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह की साजिश है। भोपाल जेल में सुधाकरराव की हत्या करवाई जा सकती है। बता दें कि सुधाकरराव पुलिस रिकॉर्ड में एक बदमाश, कांग्रेस नेताओं के अनुसार आतंकवादी और भाजपा नेताओं के अनुसार कट्टर हिंदूवादी नेता है।

सुधाकरराव की पत्नी गीता प्रभुणे ने प्रधानमंत्री के नाम पर पत्र लिखकर मांग की है कि उसके पति की जान को खतरा है, इसलिए उसे किसी अन्य जेल में स्थानांतरित किया जाए। यह पत्र मुख्य न्यायाधिपति, केंद्रीय गृह मंत्रालय, मानव अधिकार आयोग व मुख्य न्यायाधीश जबलपुर को भी भेजा गया है। पत्र में कहा है कि पति सुधाकरराव प्रभुणे राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के स्वयंसेवक रहे हैं। मप्र में जब-जब कांग्रेस की सरकार बनती है तब-तब पति के विरुद्ध झूठे मुकदमे लाद दिए जाते हैं और उन्हें जेल भेज दिया जाता है, ताकि वे संगठन के कार्यों को संचालित न कर पाएं। 

सुधाकरराव की पत्नी गीता ने अपनी शिकायत में लिखा है कि मेरे पति की सन 2010 में एसटीएफ की गिरफ्तारी के पश्चात सर्वप्रथम पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह के द्वारा मेरे पति को भगवा आतंकवादी बताकर दुष्प्रचार किया गया था। वर्तमान में कांग्रेस सरकार ने झूठा प्रकरण बनाकर उन्हें निम्बाहेड़ा जेल से भोपाल जेल में सिमी के खतरनाक आतंकवादियों के साथ रखा है। आतंकी मेरे पति को धमकी देते हैं कि वे उन्हें जेल में ही मार देंगे। पति पर लगी धारा 268 (CRPC) की कार्रवाई को निरस्त किया जाए।