ग्वालियर में इस टॉकीज की जमीन पर कोचिंग हब बनेगा | GWALIOR NEWS
       
        Loading...    
   

ग्वालियर में इस टॉकीज की जमीन पर कोचिंग हब बनेगा | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। बसंत टॉकीज के आसपास की जितनी भी सरकारी जमीन है, उस जमीन पर मार्केट कॉम्प्लेक्स बनाने के लिए नगर निगम को आवंटित किया गया था। इसके बावजूद नगर निगम ने यहां निर्माण नहीं कराया है। अब इस जमीन पर 10 मंजिला कोचिंग सेंटर बनाने का प्रस्ताव तैयार किया जाएगा। इस कोचिंग हब में विधानसभा क्षेत्र की सभी कोचिंगों को स्थान मिल सकेगा। यह प्रस्ताव बनाने के निर्देश कलेक्टर अनुराग चौधरी ने शहर भ्रमण के दौरान दिए हैं।  

इस दौरान कलेक्टर ने चौहान प्याउ थाटीपुर से मुरार नदी शहीद गेट तक डिवाईडर नहीं होने और दोनों ओर लगे खंबों के कारण यातायात अवरुद्ध होने की समस्या को भी दूर करने के निर्देश दिए, इसके साथ ही आसपास की जगह का इस्तेमाल कर सडक़ चौड़ी करने के लिए भी अधिकारियों से कहा है। शनिवार को विधायक मुन्नालाल गोयल और कलेक्टर ने संयुक्त भ्रमण किया था। भ्रमण के साथ ही निर्माणाधीन स्थल, प्रस्तावित स्थल और जिन जगहों का बेहतर इस्तेमाल हो सकता है, उनको लेकर विमर्श भी किया गया। भ्रमण के दौरान जब विधायक और कलैक्टर थाटीपुर पहुंचे तो विधायक ने थाटीपुर पुर्नघनत्वीकरण योजना स्थल पर मार्केट हब बनाने को लेकर चर्चा की। 

विधायक का कहना था कि ग्वालियर अंचल का व्यापारिक लोड महाराज बाड़ा, सराफा बाजार, नया बाजार, लोहिया बाजार, दालबाजार तक सिमट कर रह गया है, इसका विकेन्द्रीकरण किया जाना जरूरी है। थाटीपुर में मौजूद 30 हैक्टेयर भूमि पर सारी सुविधाओं से युक्त व्यावसायिक हब बनाया जा सकता है, क्योंकि थाटीपुर चौराहे से चौहान प्याउ तक 700 मीटर का फ्रंट है। इसके अलावा थाटीपुर मैदान का इस्तेमाल कर दिल्ली के पालिका बाजार की तर्ज पर बेहतर मार्केट भी बन सकता है। इससे मुरार क्षेत्र का और बेहतर विकास हो सकेगा और लश्कर क्षेत्र में बढऩे वाले दबाव को भी कम किया जा सकेगा। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि पुर्नघनत्वीकरण योजना में संशोधन के लिए एक नया प्रस्ताव तैयार करके 3 के स्थान पर 6 भाग की निविदा बुलाने प्रस्ताव शासन को भेजा जाए।