Loading...

CMO के घर आधीरात को एक महिला और 3 पुरुष, मामला दर्ज, चारों जेल

उज्जैन। मध्यप्रदेश के उज्जैन जिले की खाचरौद नगरपालिका के सीएमओ ने एक सफाई कर्मचारी पर आरोप लगाया है कि उसने अपने 2 दोस्तों के साथ मिलकर उसे हनीट्रैप में फंसाने की साजिश रची। सफाईकर्मचारी ने इस गंदे काम के लिए अपनी पत्नी का उपयोग किया। पुलिस ने महिला सहित चारों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है। 

टीआई एमएस चौहान के अनुसार 31 दिसंबर को देर रात सीएमओ जीवनराम माथुर को फंसाने के लिए चारों आरोपी साजिश के तहत उनके घर पह़ुुंचे थे। हालांकि मामले में मुख्य आरोपी अजय पिता भेरुलाल का कहना था कि वह नए साल की बधाई देने देर रात पत्नी रीना व साथी अजय पिता हीरालाल और राजेश पिता रामचंद्र के साथ सीएमओ के घर पहुंचा था। मगर सीसीटीवी में दर्ज हुए आरोपियों की संदिग्ध स्थिति देखकर पुलिस ने अजय की कहानी को मनगढ़त बताया है। मामले में गिरफ्तार अजय की पत्नी रीना काे भेरुगढ़ और शेष तीनों को खाचरौद चौकी जेल भेजा गया है।

सीएमओ के घर की सीढ़ियां चढ़ने-उतरने का बनाया वीडियो
पुलिस को दिए बयान में अजय खुद को निर्दोष बताता रहा। उसका कहना था कि पत्नी को साथ लेकर वो महज नए साल की बधाई देना चाहता था। मगर सीएमओ के घर मौजूद एक कर्मचारी ने बताया कि साहब दोस्तों के साथ ऊपर चर्चा कर रहे हैं। अभी नहीं मिल सकते। इतना सुनकर वो पत्नी को लेकर लौट गया था। मगर सीसीटीवी फूटेज में यह साफ नजर आ रहा है कि पहले पत्नी रीना को साथ लेकर अजय एक कार से सीएमओ के घर पहुंचा, थोड़ी देर बाद एक बाइक पर दो युवक और आए। इसके बाद अजय के कहने पर रीना सीएमओ के घर की पहली मंजिल की तीन सीढ़ियां चढ़ी और पल भर में ही उतरकर नीचे भी आई। सीएमओ द्वारा उपलब्ध कराए गई सीडी में सीढ़ी चढ़ने और उतरने का मोबाइल से वीडियो भी बनाया गया, जो शंकास्पद है। इसी आधार पर पुलिस ने चारों के खिलाफ धारा 448, 456 एवं 34 का प्रकरण दर्ज किया है।