जामिया हिंसा से राहुल गांधी का कनेक्शन, बीजेपी ने जोड़ा | NATIONAL NEWS

नई दिल्ली। भारतीय जनता पार्टी ने रविवार रात जामिया इलाके में हुए हिंसक प्रदर्शन का कनेक्शन राहुल गांधी से जोड़ने की कोशिश की है। भाजपा नेता संबित पात्रा ने सोमवार को प्रेस को बुलाकर हालात सामान्य बनाने के लिए मीडिया से मदद का निवेदन किया। संबित पात्रा ने इस हिंसा के लिए विपक्षी दलों को जिम्मेदार बताया। पात्रा ने जामिया इलाके में हुई हिंसा का कनेक्शन राहुल गांधी से जोड़ने की कोशिश की। 

संबित पात्रा ने कहा कि विपक्ष में मुस्लिम वोटों के लिए होड़ मची है। देश में हिंदू-मुस्लिमों को बांटने की कुछ राजनीतिक पार्टियां साजिश चल रही हैं। उन्‍होंने कहा कि छात्र पढ़े लिख हैं, कुछ राजनीतिक दल उन्‍हें मोहरा बनाकर अपनी सियायत चमका रहे हैं। संबित पात्रा ने नागरिकता कानून को लेकर दिल्‍ली में शुरू हुए विरोध प्रदर्शन पर भी सवाल उठाए। उन्‍होंने कहा कि शनिवार को एक रैली में राहुल गांधी को रीलॉन्च किया गया और रविवार से देश में हिंसा शुरू हो जाती है। उन्‍होंने JNU पर कहा कि जब वहां पर देश के खिलाफ नारे लग रहे थे। तब राहुल गांधी समेत कई नेता वहां बगावती स्‍लोगन का सपोर्ट करने गए थे। 

शनिवार को राहुल की रैली हुई और रविवार को हिंसा शुरू

संबित पात्रा ने कहा कि हम कल से दिल्‍ली में हिंसा देख रहे हैं और आज लखनऊ में भी प्रदर्शन शुरू हो गया है। नागरिकता संशोधन कानून में किसी भी धर्म, जाति के नागरिक के साथ भेदभाव का प्रावधान नहीं है। किसी के अधिकारों का हनन नहीं है। कुछ सियासी दल पढ़े-लिखे छात्रों को बरगला विरोध प्रदर्शन करा रहे हैं। बता दें कि दिल्ली में हिंसा और उसके बाद पुलिस कार्रवाई का असर ये हुआ कि उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ और लखनऊ सहित बनारस यूनिवर्सिटी में भी इस कानून का विरोध शुरू हो गया है। मुंबई में शिवसेना ने काफी तीखी टिप्पणी की है।