मैं बचपन से क्रिसमस के दिन चर्च जाता रहा हूं: मुख्यमंत्री कमलनाथ | KAMAL NATH NEWS
       
        Loading...    
   

मैं बचपन से क्रिसमस के दिन चर्च जाता रहा हूं: मुख्यमंत्री कमलनाथ | KAMAL NATH NEWS

भोपाल। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आज गोविंदपुरा चर्च में आयोजित क्रिसमस कार्यक्रम में कहा कि मसीह समाज ने मानव जाति को जोड़ने और प्रेम तथा सहयोग की भावना को मजबूत बनाने में जो योगदान दिया है, उसे पूरी दुनिया याद रखेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज दुनिया को शांति, भाईचारे और आपसी प्यार की जरूरत है। इसलिए यह जरूरी है कि हम प्रभु यीशु के मार्ग को अपनाएं और जाति, धर्म, भाषा तथा सीमाओं को लेकर जो विवाद हैं, उन्हें खत्म कर मनुष्य के सर्वांगीण विकास और कल्याण के लिए काम करें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि विभिन्न धर्म ग्रंथों के समान बाईबल प्रभु यीशु द्वारा रचित एक ऐसा ग्रंथ है, जिसका लक्ष्य है कि सम्पूर्ण मानव जाति के बीच में एकता हो और समाज के सबसे अंतिम वर्ग के उत्थान के लिए सभी लोग एकजुट होकर काम करें। उन्होने कहा कि क्रिसमस एक ऐसा त्यौहार है, जो पूरी दुनिया में मनाया जाता है। हमारे देश में भी सिर्फ मसीह समाज नहीं, अन्य वर्गों के लोग भी अपनी शानदार भाईचारे की परम्परा का पालन करते हुए इस पर्व में शामिल होते हैं। उन्होंने कहा कि मैं बचपन से क्रिसमस के त्यौहार में शामिल होता रहा हूँ। मुख्यमंत्री ने कहा कि मेल-जोल की यही संस्कृति हमारे देश और पूरी दुनिया को एक रखने के लिए जरूरी है।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ का इस मौके पर मसीह समाज ने सम्मान किया। फादर श्री अनिल मार्टिन ने मसीह समाज की ओर से प्रभु यीशु से श्री कमल नाथ को गरीबों, किसानों, युवाओं और हर वर्ग के कल्याण के लिए किए जा रहे काम में सफलता प्रदान करने की कामना की। इस मौके पर सुश्री शोभा ओझा थॉमस एवं बड़ी संख्या में मसीह समाज के लोग उपस्थित थे।