Loading...

मोबाइल चार्जर ब्लास्ट से मकान में आग लगी, लाखों का सामान स्वाहा | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। मोबाइल फोन को चार्ज पर लगाकर सो रही एक युवती आग लगने से झुलस गई। चार्जर फटने से मकान में आग लग गई, जिससे लाखों रुपए का नुकसान हुआ है। आग लगने की सूचना मिलते ही दमकलदस्ता और पुलिस मौके पर पहुंच गई। घटना बहोड़ापुर थाना क्षेत्र के विनय नगर बारा बीघा की है।

बताया गया है कि बारह बीगा के पास रहने वाली कामिनी त्रिपाठी परिवार के साथ सो रही थी तभी उनकी पुत्री आयुषी ने रात को मोबाइल चलाया और बैटरी को चार्ज करने के लिये मोबाइल को अपने सिर के पास रखकर चार्जर पर लगा दिया। रात एक बजे के करीब चार्जर और मोबाइल में तेज धमाका हुआ और बिस्तरों ने आग पकड़ ली। देखते ही देखते आग ने विकराल रूप ले लिया। परिवार के सभी सदस्य आग लगते ही घर के बाहर आ गए और आसपड़ौस के लोगों को जगाने के बाद पुलिस नियंत्रण कक्ष को इसकी खबर दी।

बारह बीघा में मकान में आग लगने की खबर मिलते ही बहोड़ापुर पुलिस और रात्रि गश्त में निकले अधिकारी मौके पर पहुंचे और फायर ब्रिगेड को भी बुला लिया। आग पर काबू पाने के लिये पड़ौस में रहने वाले लोगों ने पानी फैंकना शुरू कर दिया और अग्निशमन यंत्र की मदद से आग पर काबू पाया गया। दमकलकर्मियों ने मौके पर पहुंचकर जले हुए सामान को बाहर निकालकर पानी डालकर आग को बुझाया।

आग लगने की घटना के बाद उपचार के लिये परिजन व आसपास के लोग पास में ही स्थित एक निजी नर्सिंग होम में आयुषी को ले गए, जहां डाक्टर ने प्राथमिक उपचार कर छुट्टी दे दी। आग लगने के बाद गृहस्थी का सामान पूरी तरह से जल गया और परिजन सहमे हुए बैठे रहे। आसपास के लोगों ने इनकी मदद करते हुये अपने घर में पनाह दी। आग लगने के बाद सुबह जब परिजन घर में पहुंचे तो देखा सब सामान आग से जला हुआ था।

कामिनी त्रिपाठी ने बताया कि उनकी बेटी आयुषी के आग लगने से पैर और हाथ झुलस गए हैं। आयुषी आईसीआईसीआई बैंक में पदस्थ है। आग लगने की सूचना पड़ोस में रहने वाले मनोज राजपूत ने दी।