भोपाल के 150 अवैध कालोनाइजर्स के खिलाफ FIR की तैयारी

भोपाल। विगत 12 दिन में 50 से ज्यादा माफियाओं पर कार्रवाई की गई। 20 कॉलोनी काटने वालों के खिलाफ कार्रवाई की जा चुकी है। 150 से ज्यादा लोगों पर कार्रवाई की जाना प्रस्तावित है।  अब अवैध कॉलोनी काटने वालों के खिलाफ एफआईआर की जाएगी। यह बात शुक्रवार को संभागायुक्त दफ्तर में अभियान को लेकर बुलाई गई रिव्यू बैठक में कलेक्टर तरुण पिथोडे ने कही। 

उन्होंने बताया कि 12 लोकेशन पर कार्रवाई कर 49 एकड़ सरकारी जमीन को माफिया से मुक्त कराया गया है। इसका बाजार मूल्य 37 कराेड़ 7 लाख रुपए है। डीआईजी इरशाद वली ने कहा कि माफियाओं की प्रॉपर्टी की सर्चिंग भी थाना स्तर पर कराई जा रही है। जहां पर भी प्रॉपर्टी मिल रही है, अवैध होने पर उसे तोड़ने की कार्रवाई की जा रही है। संभागायुक्त कल्पना श्रीवास्तव ने कहा कि इस बात का ध्यान रखा जाए कि किसी ऐसे व्यक्ति के खिलाफ कार्रवाई न हो, जिसका माफिया से लेना-देना नहीं है। अब जिन पर कार्रवाई की जाए, उसकी कुंडली तैयार कर ले। यह भी देखा जाए कि उसके ऊपर नगर निगम, बिजली कंपनी, राजस्व समेत अन्य विभागों का कोई बकाया तो नहीं है।

निगम कमिश्नर बोले- तीनों विभाग मिलकर करें कार्रवाई 

बैठक में नगर निगम कमिश्नर बी विजय दत्ता ने कहा कि नगर निगम का पूरा अमला कार्रवाई के लिए तैयार है। लेकिन अब जहां पर भी कार्रवाई की जाए, वहां पर पुलिस, प्रशासन के अफसर भी मौजूद रहें ताकि कार्रवाई में दिक्कत न हो।

जुआ खिलाने वाला पिंकी भदौरिया तीन माह के लिए जिलाबदर

कलेक्टर तरुण पिथोडे ने पिंकी भदौरिया  को तीन महीने के लिए जिलाबदर किया है। उस पर जुआ खिलाने के कई मामले दर्ज हैं। पिंकी पर अलग-अलग थानों में केस दर्ज हैं। उसे तीन माह में 100 पौधे लगाना पड़ेंगे। 

नौ एकड़ में बन रही समय कुंज और तुलसी विहार कॉलोनी तोड़ी

लांबाखेड़ा में 6 एकड़ भूमि पर स्वामी प्रसाद की जमीन पर सुरेश और जितेंद्र राजपूत द्वारा समय कुंज नाम से कॉलोनी काटी जा रही थी। सुभाष यादव द्वारा तुलसी विहार कॉलोनी विकसित की जा रही थी। दोनों ही कॉलोनियों के कब्जे हटाए गए।