Loading...

मध्य प्रदेश पुलिस भर्ती: आयु सीमा और नौकरी के नियमों में बदलाव की तैयारी | MP POLICE JOB 2019

भोपाल। मध्य प्रदेश पुलिस भर्ती का इंतजार कर रहे उम्मीदवारों के लिए बुरी खबर है। कमलनाथ सरकार मध्य प्रदेश पुलिस के रिक्त पदों पर भर्ती की प्रक्रिया तो शुरू करने जा रही है लेकिन आवेदन कर्ताओं की आयु सीमा में बदलाव होने वाला है। इसके अलावा नौकरी के नियम व शर्तों में भी परिवर्तन किया जा रहा है। सरल शब्दों में कहें तो सरकार कुछ ऐसा करने जा रही है ताकि उम्मीदवारों की संख्या कम हो जाए।

मध्य प्रदेश पुलिस भर्ती की आयु सीमा क्या होगी

मध्य प्रदेश में पुलिस पदों पर भर्ती की आयु सीमा कम की जा रही है। अब 33 की जगह 28 साल आयु सीमा की जा रही है। सरकार ने प्रस्ताव तैयार कर लिया है। आयु सीमा पहले के मुकाबले पांच साल घटाई जा रही है। सब कुछ ठीक चला और प्रस्ताव को कैबिनेट में मंजूरी मिली, तो पुलिस में अब 21 से लेकर 28 आयु के लोग ही शामिल हो सकेंगे.।

28 साल से ज्यादा के उम्मीदवार पुलिस भर्ती परीक्षा नहीं दे पाएंगे

सरकार के इस फैसले का असर 28 आयु सीमा से ज्यादा उम्र के लोगों पर पड़ेगा, जो बरसों से पुलिस भर्ती के लिए तैयारी कर रहे हैं। सरकार के इस फैसले से उस बात को भी बल मिल रहा है, जिसमें एमपी पीएससी ने अपने नोटिफिकेशन में आयु सीमा तय करने के लिए शासन को फ्री हैंड दिया है।

शिवराज सरकार ने आयु सीमा बढ़ाई थी

5 जून 2017 को डीएसपी, सब इंस्पेक्टर, जेल कांस्टेबल समेत अन्य पुलिस पदों के लिए आयु सीमा में बदलाव किया गया था। पहले डीएसपी सहित अन्य राजपत्रित और अराजपत्रित वर्दीधारी पदों के लिए आयु सीमा 21 से 28 साल थी। बदलाव करते हुए पुरुष के लिए आयु सीमा 28 से 33 साल और महिलाओं के लिए 28 से 38 साल की गई थी। प्रदेश के बाहर के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा 28 रखी गई थी। बीजेपी सरकार में तीन बार 33 साल की आयु सीमा के तहत ही भर्ती हुई थी।

पुलिस भर्ती में आयु सीमा कम करना जनता के साथ धोखा: भाजपा

सरकार पहले की तरह पुलिस विभाग में विभिन्न पदों के लिए आयु सीमा 21 से 28 साल कर रही है। जल्द की प्रस्ताव कैबिनेट में मंजूरी के लिए लाया जाएगा। आयु सीमा के प्रस्ताव को लेकर बीजेपी ने कांग्रेस पर तंज कसा है। उसका कहना है सरकार कोई भी वादा पूरा नहीं कर रही है। किसानों और युवाओं के साथ धोखा हुआ है। सरकार जनता के साथ सिर्फ खिलवाड़ कर रही है.जनता को धोखा दिया जा रहा है। 

सरकार आयु सीमा का निर्धारण क्यों कर रही है

कमलनाथ सरकार ने आयु सीमा में बदलाव का मन इसलिए भी बना लिया है कि क्योंकि एमपी पीएससी आयु सीमा के बारे में अपना स्पष्ट मत दे चुकी है। एमपी पीएससी ने भी अपने नोटिफिकेशन में लिखा है कि शासन की ओर से आयु सीमा का जो निर्धारण किया जाएगा, उसकी आयु सीमा को मान्य किया जाएगा। ऐसे में सरकार जल्द कैबिनेट में आयु सीमा का प्रस्ताव लाकर उसे लागू करेगी।