Loading...

भोपाल एक्सप्रेस में बुक लाइब्रेरी भी है: न्यूज़पेपर, मैगज़ीन, बुक्स सब मिलता है | MP NEWS

भोपाल। यदि आप भोपाल से दिल्ली की यात्रा पर है और इसके लिए भोपाल एक्सप्रेस ट्रेन का चुनाव करते हैं तो यह आपका एक अच्छा फैसला है क्योंकि यह अकेली ऐसी ट्रेन है जो आपका टाइम पास करने के लिए आपको बुक्स और मैगजीन उपलब्ध कराएगी वह भी बिना किसी शुल्क के। 

डीआरएम भोपाल ने करीब 6 महीने पहले ही इस ट्रेन में ‘बुक लाइब्रेरी’ की शुरुआत की है। यह ट्रेन हबीबगंज से रात करीब 9 बजे रवाना होती है। अमूमन लोग एक-डेढ़ घंटे बाद ही सोते हैं और इस दौरान किताबें पढ़ सकते हैं। जब लाइब्रेरी एसी कोच में मिलती है।

रेलवे के संचार अधिकारी आईए सिद्दीकी ने बताया- लोगों की लंबे समय से डिमांड थी कि ट्रेन में उनके लिए और सुविधाएं होनी चाहिए, ताकि वे अच्छा समय बिता सकें। ऐसे में बुक लाइब्रेरी शुरू की गई। इस लाइब्रेरी में कई तरह की मंथली मैग्जीन हैं और करेंट अफेयर्स से जुड़ी किताबें भी हैं।

किताबों के लिए बोगी में ही एक शेल्फ बनाया गया है, जिसकी चाभी एसी कोच के अटेंडेंट के पास होती है। लोगों काे किताब या मैग्नीज के लिए सिर्फ अपनी बर्थ और पीएनआर नंबर अटेंडेंट को लिखवाना होगा। जाते वक्त किताबों को लौटाना होगा। किताबों के साथ सुबह कोच में न्यूजपेपर भी मिलेंगे। लाइब्रेरी में एक सुझाव पुस्तिका भी रखी गई है, ताकि लोग इसमें पसंदीदा किताबों के सुझाव लिख सकें।

सिद्दीकी कहते हैं- यह किताबें लोगों को एक से डेढ़ घंटे मोबाइल से दूर रखती हैं और एक लिट्रेरी इंटरटेनमेंट भी देती हैं।