Loading...

खबर का असर: बच्ची का शव निकालकर पीएम कराया | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। खबर का असर नजर आया है। विधायक प्रवीण पाठक (MLA Praveen Pathak) के दवाब में जो मामला बंद हो गया था, उसकी जांच शुरू होगी। किलकारी हॉस्पिटल (Kilkari Hospital) में डॉक्टरों की कथित लापरवाही के कारण मर गई ढाई साल की मासूम बच्ची का शव निकालकर पीएम कराया। इस मामले में विधायक प्रवीण पाठक पर आरोप है कि उन्होंने पीड़ित परिवार पर राजीनामे के लिए दवाब बनाया। भोपाल समाचार ने भी इस मामले को प्रमुखता से उठाया था।

अपनी बच्ची को न्याय दिलाने के लिए भटक रहे मुकेश कुशवाह (Mukesh Kushwaha) की सुनवाई करते हुए प्रशासन शुक्रवार को मृतक बच्ची का शव निकाल कर एसडीएम और पुलिस की निगरानी में पोस्ट मार्टम कराया गया। गौरतलब है कि दो दिन पहले कुशवाह दंपति ने अपनी ढाई साल की बच्ची की किलकारी हॉस्पिटल में इलाज के दौरान हुई मौत के लिए अस्पताल पर आरोप लगाते हुए कहा था कि विधायक प्रवीण पाठक ने अस्पताल प्रबंधन का साथ देते हुए दबाव में राजीनामा कराया था।

इसको लेकर मृतक बच्ची के माता-पिता न्याय की गुहार लेकर आईजी बंगले के बाहर दिन भर बैठे रहे मगर कोई सुनवाई नहीं हुई। छह दिन भटकने के बाद मामले ने जब तूल पकड़ा तब कहीं जाकर मर्ग कायम हुआ। शुक्रवार को एसडीएम की मौजूदगी में बच्ची का शव निकाल कर पीएम किया गया। शार्ट पीएम रिपोर्ट शनिवार को आयेगी।