Loading...

मध्य प्रदेश के सभी BRCC, BAC और CAC की समीक्षा के आदेश, कई बदले जाएंगे

भोपाल। जनशिक्षक और बीएसी बनने के लिए शिक्षकों को अब उम्र की सीमा में बांध दिया गया है। 52 साल पूरे कर चुके शिक्षकों को जनशिक्षक और विकासखंड स्त्रोत समन्वयक नहीं बनाया जाएगा। इस संबंध में राज्य शिक्षा केंद्र ने सभी कलेक्टरों को निर्देश जारी कर दिए हैं। साथ ही कहा है कि 52 साल की आयु पूरी कर चुके शिक्षक यदि इन पदों पर हैं तो उन्हें तत्काल पद मुक्त कर दिया जाए। 

राज्य शिक्षा केंद्र की ओर से निर्देशित किया गया है कि वर्तमान में पदस्थ सभी विकासखंड अकादमिक समन्वयक (बीएसी) तथा जनशिक्षकों को की समीक्षा की जाए। राज्य शिक्षा केंद्र भोपाल की संचालक आईरिन सिंथिया जेपी द्वारा जारी आदेश के अनुसार ब्लॉकवार 5 बीएसी और 21 विद्यालयों पर 1 जनशिक्षक के हिसाब से नियुक्त किया जाना है। विभाग ने यह भी स्पष्ट कर दिया है कि जिन शिक्षकों का काम अच्छा है, उन्हें ही बीएसी और जनशिक्षक के पदाें पर प्राथमिकता दी जाए।

जिनकी प्रतिक्रिया 4 साल पूरे, उन्हें हटाया जाए 

शासन ने प्रतिनियुक्ति की अवधि अधिकतम 4 साल तय की है। इसलिए पहले उन जनशिक्षक और बीएसी को हटाया जा रहा है जिनकी नियुक्ति के 4 साल और उनकी उम्र 52 साल या इससे अधिक हो गई है। हालांकि 4 साल पूरे कर लेने वाले लेकिन 52 साल से कम उम्र के शिक्षक जनशिक्षक और बीएसी के पदों पर नियुक्ति के लिए काउंसिलिंग में शामिल हो सकते हैं।