Loading...

मध्य प्रदेश के कैलाश सहारा, माल्या से बड़े डिफॉल्टर, रमेश गर्ग पर भी 1000 करोड़ से ज्यादा का लोन

भोपाल। भारत के सबसे बड़े कर्जदार का नाम विजय माल्या नहीं है। विजय माल्या तो मात्र 2488 करोड रुपए का कर्जदार है लेकिन मध्यप्रदेश के कारोबारी कैलाश सहारा 3225 करोड़ रुपए का लोन गप किए बैठे हैं। भारतीय रिजर्व बैंक ने जोती विलफुल डिफॉल्टर्स की लिस्ट जारी की है उसमें इंदौर की रुचि सोया शिवम मुरैना की केएस ऑयल भी शामिल है।

आरबीआई की लिस्ट में कैलाश सहारा की रुचि सोया पर कुल डिफॉल्ट कर्ज 3225 करोड़ रु. बताया गया है। बड़े डिफॉल्टर की लिस्ट में सहारा शराब कारोबारी विजय माल्या से दो पायदान ऊपर हैं। माल्या पर कुल बकाया कर्ज 2488 करोड़ रु. है। मुरैना के रमेश चंद्र गर्ग की केएस ऑयल मिल पर कुल डिफॉल्ट किए गए कर्ज की राशि 1026 करोड़ रु. है। रुचि सोया पर बकाया कर्ज 12,000 करोड़ रुपए का है। इसके कर्जदाता कंपनी को एनसीएलटी ले गए हैं। जहां दिवाला कानून के तहत कंपनी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है।

बुधवार को कोर्ट ने पतंजलि आयुर्वेद द्वारा पेश किए गए 4,350 करोड़ रुपए के रिवाइवल प्लान के लिए जरूरी कार्रवाई 16 दिसंबर तक पूरा करने के आदेश दिए हैं। केएस ऑयल के कर्जदाता भी कंपनी को दिवाला कोर्ट में ले गए हैं। वहां कंपनी के रिवाइवल की संभावनाएं तलाशी जा रही हैं।