Loading...

मैं वादा करता हूं JHABUA से बीजेपी जीती तो BHOPAL में मुख्यमंत्री बदल दूंगा: कैलाश विजयवर्गीय

भोपाल। कैलाश विजयवर्गीय ने सीएम कमलनाथ के खिलाफ खुली जंच का ऐलान कर दिया है। उन्होंने झाबुआ की एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि 'मैं वादा करता हूं यहां से बीजेपी जीतकर गई तो मुख्यमंत्री बदलने का काम हम करेंगे। राहुल जी तो नहीं कर पाए। यहां काबिल ए गौर यह है कि विजयवर्गीय ने सरकार बदलने की नहीं, बल्कि मुख्यमंत्री बदलने की बात प्रमुखता कही है। 

कैलाश विजयवर्गीय पहले सरकार गिराने की बात करते थे

चुनावी सभा के दौरान अपनी बात को संभालते हुए उन्होंने जोड़ा कि यदि यहां से कांग्रेस हारती है तो समझ आ जाएगी कि कमलनाथ की सरकार फेल है। मैं आपसे वादा करता हूं कि कमलनाथ जी को हम मुख्यमंत्री नहीं रहने देंगे। किसी भी हालत में इस सरकार को अपदस्थ करके बताएंगे। याद दिला दें कि पहले भी कैलाश विजयवर्गीय ने मुम्बईया लैंग्वेज में कहा था कि 'जिस दिन बॉस का इशारा हो जाएगा, 3 दिन में सरकार गिरा देंगे।'

शिवराज सिंह अपने मित्र कमलनाथ का रणनीतिक बचाव करते हैं

मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी नेता शिवराज सिंह चौहान की बातों में पद के जाने का दर्द साफ नजर आता है पंरतु कमलनाथ सरकार को गिराने की बात कभी नहीं करते, उल्टा कमलनाथ का रणनीतिक बचाव जरूर करते हैं। वो स्पष्ट कह चुके हैं कि बीजेपी जोड़-तोड़ की राजनीति नहीं करती है। कमलनाथ सरकार अपने कर्मों की वजह से गिरेगी, लेकिन जैसे ही कांग्रेस में गुटबाजी तेज होती है शिवराज सिंह चौहान एक ऐसा बयान देते हैं जो कमलनाथ को फायदा पहुंचाए और गुटबाजी की आग धीमी हो जाए। 

ज्योतिरादित्य सिंधिया के नजदीक आ रहे हैं विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय एक जमाने में ज्योतिरादित्य सिंधिया को कड़ी टक्कर दिया करते थे। मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन का चेयरमैन पद कैलाशजी ने अपनी प्रतिष्ठा का प्रश्न बना लिया था और हार के बाद ज्योतिरादित्य सिंधिया के खिलाफ एक भी बयान देने से नहीं चूकते थे पंरतु पिछले दिनों समीकरण बदले हैं। एसोसिएशन में अब सिंधिया और विजयवर्गीय दोनों एक साथ नजर आएंगे। शायद दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ रहीं हैं।