Loading...

INDORE NEWS: GF ने घर बुलाया, परिजन ने पीटा, फेंक दिया, लेकिन वो जिंदा था

इंदौर। 20 वर्षीय युवक को 10वीं की छात्रा के साथ परिजन ने निर्वस्त्र अवस्था में पकड़ लिया। छात्रा के पिता, दादा और भाई ने उसके मुंह पर टेप चिपका दी और डंडे से पिटाई की। बेहोश होने पर कार की डिक्की में डालकर बायपास पर फेंक दिया। दूसरे दिन होश आने पर पुलिस मौके पर पहुंची और अस्पताल भिजवाया। पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया है। 

परदेशीपुरा थाना पुलिस के अनुसार सर्वहारा नगर निवासी 20 वर्षीय अमन पिता सत्यनारायण (Aman father Satyanarayana) की शिकायत पर तीन लोगों के खिलाफ मारपीट, अपहरण का प्रकरण दर्ज किया गया है। अमन ने पुलिस को बताया कि नंदानगर निवासी एक युवती से उसके प्रेम संबंध हैं। युवती 10वीं में पढ़ती है। छात्रा ने युवक को कॉल कर मिलने बुलाया। इनकार करने पर छात्रा ने कहा कि वह कुछ कर लेगी। अमन घबरा गया और देर रात मिलने उसके घर पहुंच गया। पहले से छुपकर बैठे उसके चाचा के बेटे ने पकड़ लिया। मुंह दबाकर घर में ले गया और छात्रा के पिता और दादा के साथ मिलकर पिटाई कर दी।

आरोपितों ने मुंह पर टेप चिपका दी और हाथ-पैर बांध कर पिटाई की। अमन बेहोश हो गया तो कार की डिक्की में डाल दिया और बायपास स्थित सुनसान जगह ले जाकर डंडे से मारा। मृत समझ उसे बायपास पर फेंक कर आ गए। रातभर अमन बेहोश पड़ा रहा। सुबह होश आया तो राहगीर की मदद से एम्बुलेंस-108 को कॉल किया और देवास पुलिस को सूचना दी। एम्बुलेंस ने उसे देवास के जिला अस्पताल में भर्ती करवाया और इंदौर पुलिस को घटना बताई। पुलिस ने उसके बयान लिए और गुरुवार रात तीन आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया।

टीआई राहुल शर्मा के अनुसार रिपोर्ट में अमन ने छात्रा द्वारा कॉल कर बुलाना बताया है जबकि परिजन ने दोनों को संदिग्ध अवस्था में पकड़ा था। भाई, पिता और दादा पर प्रकरण दर्ज होने की सूचना मिलने पर छात्रा शुक्रवार रात थाने पहुंच गई और अमन पर छेड़छाड़ का आरोप लगाकर शिकायत दर्ज करवा दी।