Loading...

GWALIOR NEWS: पत्नी की मौत होते ही कोचिंग संचालक परिवार सहित फरार

ग्वालियर। उपचार के लिए नवविवाहिता को अस्पताल लेकर पहुंचा कोचिंग संचालक प्रदीप कटारे ((Pradeep Katare Coaching Director) पूरे परिवार सहित उस समय फरार हो गया जब उन्हें विवाहिता की मौत का पता चला। घटना जयारोग्य अस्पताल (Jairogya Hospital) स्थित न्यूरोलॉजी विभाग की है। घटना का पता जब मृतका के मायके पक्ष को चला तो वे अस्पताल पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर लिया है। वहीं मृतका के मायके पक्ष ने ससुरालवालों पर हत्या का आरोप लगाया है।

मुरार थाना क्षेत्र के त्यागी नगर निवासी प्रदीप कटारे कोचिंग संचालक है और आज सुबह वे पत्नी निशा (Nisha Katare) को लेकर जेएएच स्थित न्यूरोलॉजी पहुंचे। जहां पर उसकी मौत का पता चलते ही वे उसका शव अस्पताल में छोडक़र फरार हो गए। मामले का पता चलते ही मृतका के मायके पक्ष के लोग वहां पर पहुंचे और पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर शव को पीएम हाउस पहुंचाया।

बताया गया है कि मृतका निशा और प्रदीप की शादी 17 अप्रैल को हुई थी। शादी में प्रदीप व उनके परिजनों की मांग के अनुसार पांच लाख रुपए का दहेज दिया था, इसके बाद भी वे उसे दहेज में कार लाने के लिए प्रताडि़त कर मारपीट करते थे। मृतका के चाचा ओपी शर्मा ने बताया कि निशा के साथ परिजनों ने कमरा बंद कर मारपीट की और परिजनों ने मिलकर उसकी हत्या की है, जब उसकी मौत हो गई तो वे उसे अस्पताल लेकर पहुंचे और लाश छोडक़र फरार हो गए हैं। मृतका के मायके पक्ष ने बताया कि ससुरालवालों ने उसकी मारपीट की थी, जब उसने इसकी शिकायत करने के लिए कॉल लगाया तो उससे मोबाइल छीन लिया था।

मायके पक्ष के लोग जब अस्पताल पहुंचे तो निशा के अंगूठे में स्याही का निशान लगा हुआ था। अंगूठे पर स्याही का निशान देखते ही मायके पक्ष ने बताया कि निशा बीए पास थी और उसे अंगूठा लगाने की जरुरत ही नहीं थी, उसके साथ किसी साजिश के लिए अंगूठे का निशान लिया है। मृतका के चाचा ओपी शर्मा व माता-पिता ने पति प्रदीप, ससुर सत्यनारायण कटारे, सास सुमन, जेठ कुलदीप, वर्षा, ज्योति, रामसिया कटारे (Satyanarayan Katare, Suman, Kuldeep, Varsha, Jyoti, Ramsia Katare) पर मारपीट कर हत्या का आरोप लगाया है।