Loading...

अध्यापकों ने मंडला में पहले मंत्री का स्वागत किया फिर ज्ञापन थमा दिया | AAS MANDLA

मंडला। आजाद अध्यापक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष संतोष सोनी के नेतृत्व में उक्त मांग के निराकरण के लिए माननीय मंत्री आदिम जाति कल्याण विभाग को विशाल संख्या में अध्यापक शिक्षकों ने ज्ञापन सौंपकर शीघ्र निराकरण की मांग की। ज्ञापन में आदिम जाति कल्याण विभाग अंतर्गत अन्य विभिन्न समस्याएं जिनमें प्रमुख रूप से सातवें वेतनमान के अनुसार वेतन भुगतान सुनिश्चित किया जाए। विभागीय मंत्री आदिम जाति कल्याण विभाग ने लगभग एक घण्टे तक मंच से साथियों को सम्बोधित किया एवं अध्यापक संवर्ग के सभी मांगों के अति शीघ्र निराकरण का आश्वासन दिया।

ज्ञात हो अध्यापक संवर्ग के नवीन संवर्ग राज्य शिक्षा सेवा एवं आदिम जाति कल्याण विभाग शिक्षक संवर्ग के अंतर्गत प्राथमिक शिक्षक, माध्यमिक शिक्षक एवं उच्चतर माध्यमिक शिक्षक के पदनाम पर संविलियन किया गया है नवीन शिक्षा संवर्ग में नियुक्ति के पश्चात 20 वर्षों से लंबित ट्रांसफर नीति को अध्यापक हित में प्रारंभ कर अध्यापक शिक्षक संवर्ग को गृह क्षेत्र में जाने का अवसर दिया गया है  पूरे प्रदेश में अध्यापक संवर्ग के शिक्षकों का स्थानांतरण भी हो चुका है स्कूल शिक्षा विभाग एवं आदिम जाति कल्याण विभाग ने पूरे प्रदेश में ट्रांसफर की पूरी कार्यवाही पूरी कर सूची जारी कर दी और शिक्षकों ने नये शालाओं  में पदभार भी ग्रहण कर लिया है लेकिन आज दिनांक तक उपायुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग संभाग जबलपुर के द्वारा ट्रांसफर की सूची जारी नहीं की गई है जिससे 20 वर्षों के दीर्घ सेवा के  बाद ट्रांसफर की नई नीति के आने के बाद अध्यापक संवर्ग के अपने गृह क्षेत्र में जाने का सपना आज भी अधूरा है ऑनलाइन प्रक्रिया के अंतर्गत शिक्षकों ने आवेदन प्रस्तुत किए जिनकी कार्यवाही उपायुक्त जनजाति कार्य विभाग संभाग जबलपुर के द्वारा की जानी थी लेकिन आज दिनांक तक सूची जारी न किए जाने से अध्यापक शिक्षक संवर्ग मानसिक रूप से पीड़ित हैं विभाग  के द्वारा की जाने वाली अनदेखी से जबलपुर संभाग के आदिम जाति कल्याण विभाग में कार्यरत अध्यापक संवर्ग आक्रोशित हैं। 


42 हैड में पर्याप्त आवंटन  की मांग


जिन अध्यापकों के एम्पलाई कोड किसी कारणवश जारी नहीं हो पाए हैं उन्हें 42 हेड से वेतन का भुगतान किया जा रहा है लेकिन हेड में पर्याप्त राशि प्रदान नहीं की जाती है इस संबंध में मंत्री जी ने मंच से ही आयुक्त महोदय को फोन कर निर्देशित किया कि सभी अध्यापकों का वेतन  दीपावली के पूर्व ही प्रदान हो जाना चाहिए।

आजाद अध्यापक शिक्षक सहायता कोष का होगा गठन, मंत्री ने 10 हजार का चंदा दिया

अध्यापक शिक्षक संवर्ग के सहायतार्थ आजाद अध्यापक शिक्षक संघ  मंडला के द्वारा गठित आजाद सहायता  कोष का खाता खुलवाने के लिए ₹10000 की राशि अपनी ओर से प्रदान करेंगे।  मंत्री जी ने कहा कि इस कोष से आप जरूरतमंद शिक्षकों की मदद कर सकते हैं उनके इस प्रस्ताव को संगठन ने सहर्ष स्वीकार किया एवं तत्काल कार्यवाही कर गठन का शुभारंभ किया।

आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने मांग की कि  ट्रांसफर से वंचित सभी जरूरतमंद एवं सभी महिला अध्यापक शिक्षक साथियों के ट्रांसफर अतिशीघ्र किए जाएं  जिसे माननीय मंत्री महोदय ने 1 सप्ताह में ट्रांसफर करने का आश्वासन दिया माननीय मंत्री जी के मार्गदर्शन में शिक्षा को प्रोत्साहित करने के लिए छात्रों के लिए पुस्तक  पेन बैंक बनाने का निर्णय लिया जरूरतमंदों  को पुस्तक  पेन उपलब्ध कराए जाएंगे आजाद अध्यापक शिक्षक संघ ने शिक्षा की गुणवत्ता को बढ़ाने की दिशा में पहल करते हुए प्रस्ताव रखा की जिले के सभी विद्यालयों में शिक्षकों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए ताकि  जिले के सुदूर अंचलों मैं भी शिक्षा का प्रचार प्रसार हो और जिला शिक्षित और विकसित हो शिक्षा के क्षेत्र में जिले को अग्रणी बनाने के लिए संगठन ने विशेष  प्रयास करने की बात कही।