Loading...

दिग्विजय सिंह मंत्रियों को पत्र लिखकर क्या सिद्ध करना चाहते हैं: उमंग सिंघार (VIDEO) | MP NEWS

भोपाल। कांग्रेस में सिपहसालार सेनापतियों पर हमले कर रहे हैं। पिछले दिनों मंत्री डॉ. गोविंद सिंह ने अवैध रेत उत्खनन का मामला उठाकर ज्योतिरादित्य सिंधिया को टारगेट किया था अब वन मंत्री उमंग सिंघार ने पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह पर हमला किया है। उन्होंने कहा है कि दिग्विजय पर्दे के पीछे से सरकार चला रहे हैं तो उन्हें पत्र लिखने की क्या जरूरत है। बता दें कि उन्होंने मंत्रियों के नाम ना केवल एक पत्र लिखा था बल्कि उसे लीक भी कर दिया गया था। 

दिग्विजय क्या सिद्ध करना चाहते हैं

वन मंत्री उमंग सिंघार ने कहा है कि दिग्विजय पर्दे के पीछे से सरकार चला रहे हैं तो उन्हें पत्र लिखने की क्या जरूरत है। सिंघार ने कहा कि मध्यप्रदेश की सरकार कौन चला रहा है, यह जनता भी जानती और सरकार के मंत्री और विधायक भी जानते हैं। वन मंत्री उमंग सिंघार ने कहा कि आखिर दिग्विजय मंत्रियों को पत्र लिखकर क्या सिद्ध करना चाहते हैं। पर्दे के पीछे से तो सरकार वे ही चला रहे हैं। इसका सीधा मतलब है कि वे मुख्यमंत्री कमलनाथ को भी सरकार चलाने नहीं दे रहे हैं। मुख्यमंत्री अच्छा काम कर रहे हैं, निवेश लाने की दिशा में काम हो रहा है लेकिन दिग्विजय के मंत्रियों को पत्र लिखने से यही संदेश जाता है कि सरकार में सब ठीक नहीं चल रहा है। सिंघार ने यह भी कहा कि वे सच कहने से नहीं डरते, परिणाम जो भी हो।

दिग्विजय सिंह यू-टर्न, बोले- मैंने ऐसा नहीं कहा; 

दिग्विजय सिंह ने फिर एक बार विवादित बयान देते हुए कहा- ‘बजरंग दल, भारतीय जनता पार्टी आईएसआई से पैसा ले रहे हैं,  इस पर थोड़ा ध्यान दीजिए। पाकिस्तान से आईएसआई के लिए जासूसी मुसलमान कम, लेकिन गैर मुसलमान ज्यादा कर रहे हैं। इस बात काे समझ लीजिए।’ यह बात उन्होंने एक दिन पहले भिंड में मीडिया से चर्चा में कही। बाद में विवाद बढ़ा तो दिग्विजय ने यू-टर्न लेते हुए कहा कि मैंने यह नहीं कहा कि भाजपा आईएसआई से पैसा लेकर पाकिस्तान के लिए जासूसी करती है। मैंने यह आरोप लगाया है कि बजरंग दल व भाजपा के लिए आईटी सेल के पदाधिकारी काे आईएसआई से पैसा लेकर पाकिस्तान के लिए जासूसी करते हुए मप्र पुलिस ने पकड़ा है। इस बयान पर मैं अब भी कायम हूूं। 

सिंह पर मानहानि का दावा ठोकेगा बजरंग दल

बजरंग दल के राष्ट्रीय संयोजक सोहन सोलंकी ने कहा कि दिग्विजय के विरुद्ध मानहानि का दावा करेंगे। उनके हृदय में हिंदू विरोधी मानसिकता वर्षों से जमी हुई है। ऐसे बयान देकर वे कांग्रेस को देश से बाहर करना चाहते हैं।

देवाशीष जरारिया: फोकस में आने की कोशिश

कांग्रेस के टिकट पर भिंड लोकसभा से चुनाव लड़े देवाशीष जरारिया ने कहा कि भाजपा के ध्रुव सक्सेना और बजरंग दल का बलराम आईएसआई एजेंट निकले हैं। इनके भाजपा नेताओं से गहरे रिश्ते रहे हैं। इनकी पूरी जांच जरूरी है। इस संबंध में कैलाश विजयवर्गीय, शिवराज सिंह चौहान, बजरंग दल, आरएसएस के लोगों से पूछताछ होना चाहिए। दिग्विजय ने इन देशद्रोहियों की पोल खोल दी है।