Loading...

SCHOOL के रास्ते से लापता हुए भाई-बहनों की आगरा और दिल्ली में तलाश | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। घर से छोटे भाई को स्कूल छोडऩे निकली लापता हुई दो बहनों का अभी तक पुलिस को कोई सुराग नहीं लगा है। पुलिस अब इन गायब बच्चों की तलाश आगरा और दिल्ली में कर रही है। घटना शताब्दीपुरम में नील फाउंडेशन स्कूल के पास की है।

महाराजपुरा थाना पुलिस ने बताया कि भिंड के जौरी गांव निवासी प्रेम नारायण पुत्र हरिनारायण शर्मा किसान है। प्रेम के तीन बच्चे बेटी वैष्णवी 14 वर्ष, वैशाली 11 वर्ष, बेटा आर्यन 7 वर्ष (Vaishnavi, Vaishali, Aryan) का हैं। बच्चों को बेहत्तर भविष्य देने के लिए प्रेम नारायण इसी वर्ष गांव से ग्वालियर शहर आये थे। वह महाराजपुरा के शताब्दीपुरम में अपने बहनोई सुरेन्द्र शर्मा के घर में ही किराए से रहने लगे। बेटे का एडमिशन कुछ ही दूरी पर नील फाउंडेशन स्कूल में कराया है। बेटा आर्यन कक्षा 2 का छात्र है, बेटियों को शासकीय स्कूल में भर्ती कराया है।

प्रेम की दोनों बेटियां 7.45 बजे घर से छोटे भाई आर्यन को स्कूल छोडऩे निकली थीं। रोज 15 से 20 मिनट में दोनों वापस आ जाती थीं, लेकिन वह नहीं लौटीं तो पिता प्रेम नारायण उनकी तलाश में निकले। स्कूल के आसपास पता किया। फिर स्कूल पहुंचे तो पता चला कि आर्यन स्कूल ही नहीं आया। वैष्णवी, वैशाली व आर्यन तीनों ही लापता हैं। तत्काल मामले की सूचना पुलिस को दी। एक ही परिवार के 3 मासूम बच्चों के लापता होने का पता चलते ही पुलिस अफसर व महाराजपुरा थाना प्रभारी आसिफ मिर्जा ने तत्काल बच्चों की तलाश शुरू कर दी थी।