Loading...

वाल्मी पुल के लिए स्टूडेंट्स ने MLA रामेश्वर शर्मा को ज्ञापन सौंपा | BHOPAL NEWS

भोपाल। वाल्मी हिल से दानिश हिल के बीच कलियासोत नदी पर 5 करोड़ की लागत से नवनिर्मित पुल के अप्रोच रोड का विवाद ने अब तूल पकड़ लिया है। शुक्रवार को कोलार, चूनाभट्टी, शाहपुरा आदि के निवासी कॉलेज विद्यार्थियों ने पुल के लिए अप्रोच रोड बनाने के लिए सरकार के खिलाफ वाल्मी पुल पर प्रदर्शन कर क्षेत्रीय विधायक रामेश्वर शर्मा को ज्ञापन सौपकर अपनी मांग रखी। 

पुल के शुरू होने से ट्रेफिक जाम की समस्या समाप्त हो जाएगी

ज्ञापन के माध्यम से विद्यार्थियों की मांग है कि उनमें से अधिकतर विद्यार्थी शासकीय उत्कृष्ट महाविद्यालय कलियासोत, कोलार रातीबड़, मैनिट, खुशिलाल आयुर्वेदिक संस्थान, एल एन मेडिकल कॉलेज सहित अन्य कॉलेजों में अध्ययनरत है परन्तु कोलार चूनाभट्टी मंदाकनी चौराहे पर लगने वाले जाम से उन्हें पढ़ाई के साथ साथ समय का बहुत नुकसान होता है। विद्यार्थियों ने बताया कि वाल्मी से दानिश हिल के बीच इस बने पुल के शुरू होने से ट्रेफिक जाम की समस्या बहुत हद तक समाप्त हो जाएगी परन्तु उन्हें यह ज्ञात हुआ कि शासन का कोई वाल्मी विभाग उक्त पुल के अप्रोच रोड बनाने में आड़े आ रहा है जिसपर विद्यार्थियों ने विधायक शर्मा को ज्ञापन देकर पुल को जल्द से जल्द शुरू कराने का आग्रह किया। इस दौरान बड़ी संख्या में छात्र छात्राएं उपस्थित रहे। 

जनता के साथ सडको पर उतरूंगा: रामेश्वर शर्मा 

वाल्मी पुल पर आक्रोशित विद्यार्थियों से ज्ञपन लेने पहुँचे विधायक रामेश्वर शर्मा ने स्पष्ट रूप से कहा कि कोलार की 5 लाख की आबादी को ट्रेफिक समस्या से निजात दिलाने के लिए तत्कालीन शिवराज सरकार ने उक्त पुल का निर्माण कराया था परन्तु जब से प्रदेश में कांग्रेस की कमलनाथ सरकार बनी है तब से केवल 250 मीटर अप्रोच सड़क के लिए 5 करोड़ का पुल धूल खा रहा है। विधायक शर्मा ने कहा कि अप्रोच के लिए पर्याप्त राशि भी उपलब्ध है सरकार को सिर्फ पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के अधीन वाल्मी संस्थान से भूमि देने पर सहमति चाहिए। 

विधायक शर्मा ने कहा की यह अत्यंत ही दुर्भाग्यपूर्ण है कि कोई भी शासकीय विभाग सड़क भवन आदि के लिए निजी भूमियों का अधिग्रहण कर लेता है परन्तु 5 लाख की आबादी के लिए महज 250 मीटर भूमि देने में शसकीय विभाग को क्या अप्पति है यह समझ से परे है । विधायक शर्मा ने कहा कि उन्होंने इस संबंध में मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ एवं प्रशासन को पत्र लिखकर अवगत कराया है अगर जल्द ही उन्होंने इस समस्या का निराकरण नही किया तो वह कोलार की जनता के साथ सडको पर उतर कर उग्र प्रदर्शन करेंगे ।  

प्रत्येक शुक्रवार पुल पर ही एकत्रित होकर सरकार को घेरने की रणनीति बनाएंगे

वाल्मी पुल पर पत्रकार बंधुओं को संबोधित करते हुए विधायक रामेश्वर शर्मा ने जानकारी दी कि अबसे हर शुक्रवार को वाल्मी पुल पर ही सामाजिक, व्यापारिक, विभिन्न कॉलोनी के नागरिक , डॉक्टर्स, इंजीनियर्स, छात्र छात्राओं के साथ साथ इस पुल के निर्माण से सीधे रूप से लाभान्वित नागरिको के साथ बैठक कर सरकार को अपने अपने स्तर पर घेरने की रणनीति पर चर्चा होगी। शुक्रवार को विद्यर्थियों ने विधायक शर्मा को आश्वस्त किया कि वह इस मार्ग निर्माण में आने वाली तमाम बाधा में आपके साथ कंधे से कंधा मिलाकर साथ खड़े है । 

जनता के साथ कार सेवा कर बनाएंगे पुल का रास्ता: रामेश्वर शर्मा 

विधायक रामेश्वर शर्मा ने कहा कि शासन के प्रत्येक स्तर पर वह वाल्मी पुल को जल्द शुरू करने से अवगत करा चुके परन्तु शासन ने अभी तक कोई संतुष्ट जवाब नही दिया है विधायक शर्मा ने कहा कि शनिवार को एक बार फिर पंचायत एवं ग्रामीण विभाग के अधीन वाल्मी विभाग के प्रमुख सचिव एवं नगरीय प्रशासन विभाग के प्रमुख सचिव को पत्र लिखकर समस्या के निराकरण करने का आग्रह करेंगे । विधायक शर्मा ने कहा कि बावजूद शासन प्रशासन नही चेता तो वह जनता के साथ कार सेवा कर वाल्मी का रास्ता स्वयं बनाएंगे। 

ये रहे उपस्थित 

शुक्रवार को विभिन्न कॉलेज के छात्र छात्राओं में से प्रमुख रूप से अटल शर्मा, माधवेन्द्र सिंह परमार, सुश्री राधे बजाज, सुश्री मेतावी दुबे, सुश्री नैंसी जैन,रणवेश शर्मा, विनायक तिवारी, विश्मित मारण, आदित्य शर्मा, श्रेयांश पवार, आयुष शर्मा, आलोक राजपूत, वरुण सोनी, शिखर जाट, आदित्य साहू,निखिल वानखेडे, अनिकेत पांडेय, उत्तम राजपूत, हेमंत, इंद्रजीत, ब्रजराज, आदर्श मीना सहित बड़ी संख्या में विद्यार्थी उपस्थित रहे ।