Loading...

दूसरे IAS का इस्तीफा, बोले: लोकतांत्रिक सिद्धांतों के साथ अभूतपूर्व छेड़छाड़ की जा रही है

नई दिल्ली। IAS कन्नन गोपीनाथ के इस्तीफे के एक हफ्ते के अंदर ही अब कर्नाटक के दक्षिण कन्नड़ जिला उपायुक्त एस. शशिकांत सेंथिल ने शुक्रवार को भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) से इस्तीफा दे दिया। एक पत्र में उन्होंने कहा कि, 'लोकतंत्र के मूलभूत सिद्धांतों के साथ अभूतपूर्व रूप से छेड़छाड़ की जा रही है।' 

ओपन लेटर में नौकरी छोड़ने के बाद लोगों से माफी मांगते हुए सेंथिल ने लिखा, 'इस मामले को नजरंदाज नहीं किया जा सकता है।' एस. शशिकांत सेंथिल ने कहा कि यह उनका 'निजी फैसला' है। हालांकि पत्र में उन्होंने लिखा कि, ऐसे वक्त में जब लोकतंत्र के मूलभूत सिद्धांतों के साथ अभूतपूर्व रूप से छेड़छाड़ की जा रही है, तब उनके लिए इस पद पर बने रहना अनैतिक होगा। आपको बता दें कि सेंथिल कर्नाटक काडर के वर्ष 2009 बैच के आईएएस अधिकारी हैं। 

आने वाले दिनों में देश के मूल ताने-बाने को चुनौती पेश की जाएगी

सेथिंल ने लिखा, मैं यह भी महसूस करता हूं कि आने वाले दिन हमारे देश के मूल ताने-बाने को चुनौती पेश करने वाले होंगे और इसलिए बेहतर होगा कि मैं आईएएस की सेवा छोड़ सभी के जीवन को बेहतर बनाने के लिए काम करूं।' 

पिछले हफ्ते कन्नन गोपीनाथ ने ​इस्तीफा दिया था

आपको बता दें कि पिछले हफ्ते ही कन्नन गोपीनाथ (33) ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया था। उन्होंने अपने इस्तीफे के पीछे जम्मू-कश्मीर के विशेष राज्य का दर्जा खत्मकर लाखों लोगों के 'मूलभूत अधिकार' छीने जाने को वजह बताया था। गोपीनाथ ने एनडीटीवी से बातचीत में कहा था, 'मेरे इस्तीफे से कोई फर्क तो नहीं पड़ेगा लेकिन हर किसी को अंतर्रात्मा को आवाज देना होता है'। आपको बता दें कि गोपीनाथ दादर नगर हवेली में कई मुख्य विभागों में सचिव हैं और उन्होंने घाटा झेल रही एक सरकारी बिजली कंपनी के फायदे में ला दिया था।