Loading...

रेल पुल के ऊपर से बहा पानी, ग्वालियर-श्योपुर तीनों नैरोगेज ट्रेन रद्द | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। राज्य के मौसम में बदलाव का दौर जारी है। बुधवार की सुबह से बादल छाए हैं, धूप के न निकलने से गर्मी से राहत है, मगर उमस भी बनी हुई है। राज्य में बीते 24 घंटों के दौरान कुछ स्थानों पर बौछारें पड़ी। मौसम विभाग के अनुसार, बंगाल की खाड़ी से नमी आ रही है, जिससे राज्य के कई हिस्सों में आगामी 24 घंटों में हल्की बारिश हो सकती है।

ग्वालियर में 20 साल बाद सांक नदी उफान है। इससे लगातार दूसरे दिन भी ग्वालियर से सबलगढ़ व श्योपुर के बीच सभी नैरोगेज रद्द रहीं। इससे 200 से अधिक गांव के लोगों का आना-जाना बंद हो गया है। रेल प्रशासन के मुताबिक बामौर व सुमावली के बीच बने रेल पुल के ऊपर से पानी बह रहा है, इसी के चलते अप एंड डाउन की नैरोगेज ट्रेन रद्द की गई है। जब तक पुल से पानी उतर नहीं जाता तब तक नैरोगेज का संचालन नहीं किया जाएगा। आज भी नैरोगेज अप एंड डाउन दोनों तरफ की ट्रेनें रद्द रहेंगी। 

श्योपुर जिले के वन्य क्षेत्र में भारी बरसात के चलते करीब एक सैंकड़ा मकानों में पानी भर गया और करीब एक दर्जन मवेशी तेज बहाव में बह गए। कराहल पुलिस के मुताबिक, कल देर शाम सेसईपुरा गांव में भारी बारिश से सर्वाधिक नुकसान हुआ। यहां से गुजरने वाले शिवपुरी राज्यमार्ग पर करीब दो फुट पानी भर गया। यहां पर दो कच्चे मकान सहित 15 मवेशी (गाय और बकरियां) तेज पानी के दौरान जंगली नालों में बह गईं।