Loading...

इलेक्ट्रिक बसों को ग्रीन सिग्नल, चार रूटों पर चलेंगी 40 बसें | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। पब्लिक ट्रांसपोर्ट के लिए तरस रहे महानगर के लिए जल्द इलेक्ट्रिक बसों का सपना जमीन पर उतर सकता है। मंगलवार को पब्लिक ट्रांसपोर्ट को लेकर एक बड़ा ग्रीन सिग्नल मिल गया है। जिला सड़क यातायात एवं सड़क सुरक्षा समिति की सांसद विवेक शेजवलकर (MP Vivek Shejwalkar) की अध्यक्षता में 40 इलेक्ट्रिक बसों (Electric buses) के रूटों को सैद्वांतिक स्वीकृति मिल गई है। चार रूटों पर 40 बसों का संचालन किया जाएगा जिसको लेकर रूट प्लान का फायनल प्रजेंटेशन भी स्मार्ट सिटी सीईओ महीप तेजस्वी ने सांसद-अफसरों को दिखाया।   

इलेक्ट्रिक बस में सफर करने का किराया कम से कम पांच रूपए होगा। मुरैना से डबरा के लिए 90 किमी के सफर में 16 बसें चलाई जाएंगी। घाटीगांव से पुरानी छावनी के लिए 48 किमी के रूट पर 10 बसें चलेंगीं। कोटेश्वर से शनिचरा के लिए 35 किमी के रूट में 8 बसें चलाईं जाएंगी। सिरोल से सागरताल के रूट में 18 किमी के रूट में 6 बसें चलाईं जाएंगी। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में क्षेत्रीय सांसद विवेक नारायण शेजवलकर की अध्यक्षता में जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में यातायात प्रबंधन के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय भी लिए गए। 

बैठक में विधायक मुन्नालाल गोयल, नगर निगम सभापति राकेश माहौर, मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के प्रतिनिधि देवेन्द्र सिंह तोमर, नेता प्रतिपक्ष कृष्णराव दीक्षित, कलेक्टर अनुराग चौधरी, पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन, नगर निगम आयुक्त संदीप माकिन, एडीएम टीएन सिंह, अपर कलेक्टर किशोर कान्याल, मेला प्राधिकरण उपाध्यक्ष प्रवीण अग्रवाल, सीईओ स्मार्ट सिटी महिप तेजस्वी, आरटीओ एमपी सिंह सहित जिला सड़क सुरक्षा समिति के सदस्य एवं विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।

इलेक्ट्रिक बसें:ऑपरेटिंग-रेवेन्यू स्मार्ट सिटी की

ग्वालियर स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कॉर्पोरेशन के प्रस्ताव को केंद्र सरकारी ने हरी झंडी दी और भारी उद्योग मंत्रालय से यह 18 करोड़ की सब्सिडी मिली है। इसको लेकर पिछली साल भी प्रयास किए गए थे लेकिन काम नहीं हुआ।

इन रूट को मिली स्वीकृति

1-मुरैना से डबरा- बानमोर,बिरलानगर,तानसेन नगर,पडाव,विक्की फैक्ट्री होते हुए

2-घाटीगांव से पुरानी छावनी- पनिहार,बेला की बावड़ी,गोल पहाड़िया,लक्ष्मीगंज,बहोड़ापुर,मोतीझील होते हुए

3-कोटेश्वर से शनिचरा- उरवाई गेट, शिंदे की छावनी,डीडी मॉल,फूलबाग,पडाव,रेलवे स्टेशन,गोला का मंदिर,एयरपोर्ट

4-सिरोल से सागरताल- सचिन तेंदुलकर मार्ग, सिटी सेंटर, बस स्टैंड,फूलबाग,नदीगेट,शिंदे की छावनी,जेल रोड,बहोड़पुर होते हुए

सांसद की पहल-पहली बार वाले का चालान नहीं हेलमेट दें

बैठक में सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि पहली बार हेलमेट न होने पर किसी का चालान न काटें,बल्कि उसे ब्रांडेड कंपनी का हेलमेट प्रदान करें। इसका शुल्क खुद वाहन चालक ही भरेगा। वहीं ऑन द स्पॉट ही लायसेंस न होने पर लायसेंस की प्रक्रिया शुरू कराएं। इस प्रस्ताव को कलेक्टर-एसपी ने सराहा।

टेंपो में रूट पर सही संचालन के लिए जीपीएस लगाए जाएंगे। बस स्टैंड पर परिवहन की जमीन पर डिपो एक्सटेंशन प्लान तैयार होगा। वैकल्पिक तौर पर ट्रिपल आईटीएम के सामने भी संभावना तलाशेंगे। गोला का मंदिर से एयरपोर्ट रोड तक सडको के डिवाइडरों पर 23 कट हैं जिनमें से 20 को बंद किया जाएगा। शहर में स्कूल बसें 32 सीटर ही चलाने की कार्रवाई की जाए और 52 सीटर शहर से बाहर चलाई जाएं। रात्रिकालीन वीडियोकोच बसों को शहर में प्रवेश न देकर झांसी रोड बस स्टैंड से ही संचालन किया जाएगा। शहर के ऐसे 25 स्पॉट जहां बिजली पोल के कारण यातायात प्रभावित हो रहा है,निगम और बिजली कार्रवाई करेंगे।

10 साल से ज्यादा पुराने डीजल वाहनों को शहर से बाहर किया जाएगा। अब एसडीएम भी मोटरयान अधिनियम के तहत कार्रवाई करेंगे। निरावली पुल का जल्द सुधार होगा। ऑटो की संख्या 10 हजार पर सीलिंग और रूटों पर संशोधन पर रोक लगाने का निर्णय लिया गया। बहोड़ापुर से आने वाले सवारी वाहनों को मानसिक आरोग्यशाला तक ही अनुमति देने का निर्णय लिया गया। कंपू क्षेत्र में अवैध बसों के खड़ा होने पर बुधवार को कार्रवाई की जाएगी। ई-रिक्शा की जांच होगी।