Loading...

BRITISH FORD SCHOOL में छात्र की गुंडागर्दी, छात्र-छात्राओं व शिक्षकों सभी को पीटा | JABALPUR NEWS

जबलपुर। भेड़ाघाट रोड कूड़न स्थित ब्रिटिश फोर्ड स्कूल में बुधवार सुबह साढ़े 11 बजे एक छात्र अपने 25 से ज्यादा साथियों के साथ स्कूल की बांउड्री कूदकर घुसा। जब तक कोई कुछ समझ पाता, छात्र और उसके साथियों ने स्कूल में लगे कांच में पत्थर से हमला कर तोड़फोड़ करना शुरू कर दी। इसके बाद सभी ने क्लास में घुसकर छात्र-छात्राओं और शिक्षकों के साथ मारपीट की।  

बताया जा रहा है कि आरोपित छात्र का दो दिन पहले अपने साथी छात्र से क्लास में बैंच हटाने को लेकर विवाद हुआ था। इसका बदला लेने के लिए उसने इस घटना को अंजाम दिया। भेड़ाघाट थाने के एसआई रविशंकर उपाध्याय ने बताया कि कूड़न में स्थित उक्त स्कूल के छात्र का कक्षा में पढ़ने वाले दूसरे छात्र से बैंच हटाने की बात पर दो दिन पहले विवाद हो गया था। दोनों छात्रों में मारपीट होने लगी, जिसके बाद कक्षा के अन्य छात्रों ने मिलकर विवाद को शांत कराया। आरोपित छात्र ने माफी मांगने के लिए कहा। लेकिन उसने माफी नहीं मांगी। आरोपित छात्र इस बात से नाराज हो गया और वह धमकी देकर चला गया। 

आरोपित छात्र शहपुरा निवासी है, जो विवाद के बाद से स्कूल नहीं गया था। उसे निलंबित कर दिया था। बुधवार की दोपहर छात्र अपने भाई अभिषेक और अन्य 25 साथियों को लेकर स्कूल पहुंचा। स्कूल का दरवाजा बंद था, तो सभी बाउंड्री कूदकर अंदर घुसे और तोड़फोड़ शुरू कर दी।

तोड़फोड़ से स्कूल के छात्र-छात्राएं और शिक्षक दहशत में आ गए और यहां वहां भागने लगे। तभी आरोपित छात्र अपने साथियों के साथ अंदर घुस गया और उसने छात्र-छात्राओं और शिक्षकों पर हमला कर दिया। हमले में लगभग 6 से अधिक लोग घायल हैं। सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल भिजवाते हुए जांच शुरू की।

आरोपित छात्र का दो दिन पहले अपने साथी छात्र से विवाद हुआ था। जिसका बदला लेने के लिए बुधवार को छात्र अपने साथियों के साथ स्कूल पहुंचा और मारपीट कर तोड़फोड़ कर दी। आरोपित छात्र और उसके साथियों पर मामला दर्ज कर तलाश की जा रही है। 
रविशंकर उपाध्याय, एसआई भेड़ाघाट

दो दिन पहले बच्चों का विवाद हुआ था। जिसमें एक छात्र माफी मंगवाने के लिए धमका रहा था। इसके बाद दोनों छात्रों के परिजन को बुलाया था। इसमें एक छात्र अपने परिजन को लाया। लेकिन दूसरा छात्र अपने भाई और साथियों को लेकर स्कूल पहुंचा और स्कूल में तोड़फोड़ करते हुए छात्र, छात्राएं और शिक्षकों पर हमला कर दिया।
अनुराग सोनी, डायरेक्टर ब्रिटिश स्कूल