Loading...

12वीं की प्राची पढ़ने गई थी, फांसी पर लटकी मिली | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। माधौगंज थाना क्षेत्र में 12वीं की छात्रा प्राची राजावत (Prachi Rajawat) की संदिग्ध मौत (Suspicious death) का मामला सामने आया है। 17 साल की प्राची घटना वाली रात पढ़ने के लिए अलग कमरे में गई थी। सुबह देखा तो उसकी लाश फांसी पर झूल रही थी। शव के पास से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है। परिजन भी आत्महत्या का कारण नहीं बता पा रहे हैं परंतु पुलिस इसे आत्महत्या ही मानकर चल रही है।

माधौगंज थाना क्षेत्र के बीजासेन माता मंदिर के पास रहने वाले धर्मेन्द्र सिंह राजावत (Dharmendra Singh Rajawat) की 17 वर्षीय बेटी प्रांची बारहवीं कक्षा की छात्रा है। वह खाना खाने के बाद दूसरी मंजिल पर बने कमरे में पढऩे और सोने के लिए चली गई। आज सुबह जब वह नीचे नहीं आई तो मां ने छोटी बेटी को उसे बुलाने भेजा तो काफी देर दरवाजा खटखटाने के बाद भी अंदर से कोई प्रतिक्रिया नहीं हुई।

इस पर छोटी बहन ने खिडक़ी से झांका तो अंदर प्रांची फांसी के फंदे पर झूलती दिखी। उसे फंदे पर झूलते देखकर पुलिस को सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और जांच के बाद मर्ग कायम कर शव को पीएम हाउस पहुंचाया। पुलिस का कहना है कि फिलहाल पता नहीं चल सका है कि किन कारणों के चलते उसने आत्महत्या की है।