Loading...

दमोह में बारिश से मकान ढह गया, 11 लोग दब गए | DAMOH MP NEWS

दमोह। मध्य प्रदेश के दमोह जिले में लगातार बारिश के चलते एक कच्चा मकान ढह गया जिसकी चपेट में 11 लोग आ गए। हादसा जनपद के मागंज वार्ड नंबर 6 में गुरूवार- शुक्रवार कि दरमियानी रात में हुआ। यह मकान लोको में रेलवे ओवर ब्रिज के नीचे बना हुआ था। इस दो मंजिला कच्चे मकान में मकान मालिक के परिवार के 4 लोगों के साथ-साथ 7 किरायेदार भी रह रहे थे। चपेट में आए लोगों में 2 बच्चों समेत 4 लोग गंभीर रूप से घायल हुए हैं जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

बच्चों को आंचल में छिपाया

घटना के समय मकान में मौजूद किरायेदार के मुताबिक़ हादसा रात तकरीबन 11. 30 बजे हुआ। देर रात अचानक लगा कि मकान में कुछ हलचल हो रही है इससे पहले कि वो कुछ समझ पाते या इसकी जानकारी किसी को दे पाते मकान भरभरा के ढह गया। जिस वक्त मकान ढहा मकान मालिक छज्जू रैकवार अपनी पत्नी व दो बच्चों के साथ मकान कि ऊपरी मंजिल पर सो रहा था। छज्जू कि पत्नी मनीषा के मुताबिक लगातार हो रही बारिश के चलते घर कि छत टपक रही थी और वो अपने बच्चों को सुलाने कि कोशिश कर रही थी तभी उसे मकान ढहने का अंदेशा हुआ तो उसने दोनों बच्चों को अपने आंचल में छिपा लिया। इस हादसे में छज्जू रैकवार उसकी पत्नी मनीषा रैकवार व दोनों बच्चे घायल हुए हैं जिनका इलाज अस्पताल में चल रहा है।

जान तो बच गई लेकिन पूरी गृहस्थी चौपट हो गई

गौरतलब है कि पूरे प्रदेश में लगातार मूसलाधार बारिश हो रही है ऐसे में विभिन्न जिलों से कई ऐसी घटनाएं सामने आ रही हैं। इसी मकान की निचली मंजिल के दूसरे पोर्शन में किरायेदार प्रकाश अहिरवार अपने परिवार के 7 सदस्यों के साथ रह रहा था। प्रकाश के मुताबिक गणेश विसर्जन के बाद वो लोग घर पर आकर सो रहे थे। लगातार मूसलाधार बारिश जारी थी। अचानक से मकान में हलचल की सी आहट होने लगी इससे पहले कि वो कुछ समझ पाते मकान ढह गया। उनका कहना है कि जान तो बच गई लेकिन मकान ढहने से मकान मालिक समेत उनकी पूरी गृहस्थी बर्बाद हो गई।

मौके पर पहुंची तहसीलदार बबिता राठौर ने पीड़ितों को प्रशासन द्वारा हर संभव मदद दिए जाने का आश्वासन दिया है। घायलों का अस्पताल में इलाज जारी है।