Loading...

भोपाल में बड़ा हादसा: गणपति प्रतिमा विसर्जन को गई नाव पलटी, 11 मौतें | BHOPAL NEWS

भोपाल। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल में अनंत चतुदर्शी के अवसर पर गणपति प्रतिमा विसर्जन के दौरान नाव पलट गई। इस हादसे में 11 लोगों की मौत हो गई। नाव में कुल 18 लोग मौजूद थे। हादसे का शिकार हुए 5 लोगों को बचा लिया गया है। शेष लापता हैं। हादसा भोपाल की मशहूर छोटी झील के खाटलापुरा घाट पर नाव पलटने से हुआ।

11 शव मिले, शेष लापता


जिस नाव में मूर्ति विसर्जित करने के लिए झील में उतारी गई थी, वह नाव काफी छोटी थी जबकि मूर्ति काफी बड़ी थी। मूर्ति विसर्जन के लिए पानी में उतारने के दौरान नाव एक तरफ झुक गई और पलट गई। इस दौरान नाव में सवार श्रद्धालु मूर्ति के नीचे आ गए। अब तक 11 लोगों के शव निकाले जा चुके हैं। बाकी लापता लोगों की तलाश जारी है।

सरकार ने मुआवजा का ऐलान किया

खाटलापुरा घाट के पास शुक्रवार 13 सितम्बर 2019 की सुबह साढ़े चार बजे यह घटना हुई। प्रदेश के जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि हादसे की जांच होगी। उन्होंने कहा कि मृतकों के परिवारों को सरकार की ओर से चार लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। (@ANI. PC Sharma, MP Minister on 11 dead after boat capsized in Bhopal this morning: The incident is really unfortunate. A compensation of Rs 4 lakh has been announced for the families of the deceased by the District Collector. Investigation will be done.)

जैसे ही हादसे का पता चला तो स्थानी प्रशासन के साथ-साथ एसडीआरएफ की टीम भी लोगों का रेस्क्यू करने में लगी हुई थी। जिन लोगों की मौत हुई है वह पिपलानी के 1100 क्वार्टर के रहने वाले थे। घटना की सूचना मिलते ही प्रशासन के लोग मौके पर पहुंच गए और रेस्क्यू का काम शुरू कर दिया गया। रेस्क्यू ऑपरेशन कर एसडीआरएफ की टीम ने पांच लोगों को बचा लिया। प्रदेश के मंत्री पीसी शर्मा ने कहा कि जांच में पता चलेगा कि यह घटना कैसे हुई। उन्होंने हादसे को दुर्भाग्यपूर्ण करार दिया।

शिवराज सिंह चौहान ने कहा: 
भोपाल के छोटे तालाब के खटलापुरा में गणेश विसर्जन के दौरान नाव टूटने के कारण हुआ हादसा हृदय विदारक है। इस भीषण दुर्घटना में हताहत हुए लोगों को श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ और ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति देने व परिजनों को इस गहन दुःख को सहने की शक्ति देने की प्रार्थना करता हूँ।