Loading...

गुडन्यूज: तिघरा फुलटेंक लेवल के नजदीक, मात्र 0.15 फुट पानी की दरकार | GWALIOR NEWS

ग्वालियर। इस साल मानसून की बेरुखी के चलते बेहद हैरान और परेशान रहे शहरवासियों को मानसून विदा होने से पहले हो रही बारिश ने जमकर राहत तो दी ही है, साथ ही एक दूसरी अच्छी खबर यह भी है कि पिकनिक स्पाट के रूप में अपनी विशेष पहचान करने वाले तिघरा डेम का जल स्तर लगातार बढ़ रहा है और जो अंतिम सीमा इसकी तय की है वह 738 फुट है, अब तक तिघरा में 737.85 फुट पानी आ चुका है और इसे पूरा भरने में मात्र 0.15 फुट पानी की दरकार है। 

जल्द ही गुट खुलेंगे, शहर में पानी की किल्लत नहीं रहेगी

हालांकि गेट 738.50 फुट पर खोले जायेंगे, लेकिन जिस तरह से तिघरा में कैचमेंट एरिया से पानी मिल रहा है और रोज बरसात हो रही है उसके बाद 24 से 48 घंटे के भीतर इसके गेट खुलने का मनोहारी नजारा सैलानी देख सकेंगे। पिछले साल भी इसके तीन गेट खोले गए थे।तिघरा को लेकर अब आश्वस्त हुआ जा सकता है, क्योंकि अगले मानसून तक का पानी इसमें जमा हो चुका है, जिससे शहर में पानी की किल्लत नहीं रहेगी। हालांकि कुछ रोज पहले तक रूठे मानसून ने नागरिकों के साथ प्रशासन को भी चिंतित कर दिया था। उधर तिघरा के जल स्तर में लगातार इजाफे के बाद अब पेहसारी बांध से आ रहा पानी भी बंद कर दिया गया है।

मौसम का मिजाज बेहतर है और लोग जमकर लुफ्त ले रहे हैं

इधर मौसम विभाग जो संकेत दे रहा है वह बेहद राहत देने वाला हैं और फिलवक्त सही साबित हो रहा है। सुबह से लामबंदी में जुटे बादलों ने सूरज की किरणों को पीछे करते हुए जोरदार बरसात को अंजाम दे दिया। यह अलग बात है कि कहीं-कहीं केवल बूंदो का ही सहारा मिला, लेकिन मौसम का मिजाज बेहतर है और लोग इसका जमकर लुफ्त ले रहे हैं। भले ही सुबह से बिगड़ैल रहे मौसम के कारण लोग अवकाश के बाद भी घर में बैठे रहे, लेकिन जैसे ही मौसम ने कांटा बदला लोगों ने झटपट पिकनिक फिक्स की और तिघरा के लिये रवानगी डाल दी। उधर मौसम विभाग का कहना है कि फिलहाल 24 से 37 घंटे तक इसी तरह का मिला जुला मौसम बना रहेगा। जिससे लोगों को गर्मी से राहत मिलेगी।