Loading...

RAISEN: सारी रात जागते रहे लोग, नदी, नाले, सड़कें, बस्तियां चारों तरफ पानी ही पानी

रायसेन। जिला मुख्यालय सहित जिले भर में हो रही मूसलाधार बारिश के हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा है। जिले की सभी नदियों में उफान पर है। रायसेन में हुई मूसलधार बारिश से निचली बस्तियों के घरों में बारिश का पानी भरा जाने की वजह से लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा। वहीं रायसेन दरगाह शरीफ से गुजरी रीछन नदी के उफान पर आ जाने से रायसेन-भोपाल नेशनल हाईवे 146 मार्ग तालाब में तब्दील हो गया। जिसकी वजह से रायसेन का भोपाल से सड़क संपर्क टूट गया और हाईवे के दोनों तरफ बड़ी संख्या में यात्री वाहन फंस गए। 

करीब 3 घंटे बाद रीछन नदी का जलस्तर कम होने के बाद रायसेन का भोपाल से सड़क सम्पर्क शुरू हुआ। इसके अलावा रायसेन से भोपाल जोड़ने वाला गोपालपुर-सदालतपुर बायपास के पास तेज बारिश की वजह से हाल में बनाया गया पुल धंस जाने से करीब 4 घंटे से ज्यादा समय तक रायसेन का भोपाल से पूरी तरह सड़क संपर्क टूट गया और हजारों की संख्या में लोग फंसे रहे।

वहीं बेगमगंज में ग्राम काउला बीना नदी के उफान पर आ जाने से रायसेन का सागर से सड़क संपर्क टूट गया। वहीं ग्राम पग्नेश्वर से गुजरने वाली बेतवा नदी के रायसेन सहित अन्य जिलों में हुई भारी बारिश के चलते उफान आ गया और ग्राम पग्नेश्वर बेतवा के छोटे पुल से करीब 7 फीट ऊपर बारिश का पानी होने के चलते रायसेन का विदिशा से सड़क संपर्क टूटा रहा।

निचली बस्तियों में मची अफरा तफरी

रायसेन जिला मुख्यालय पर रात्रि में हुई मूसलधार बारिश से निचली बस्तियों के घरों में बारिश का पानी भरा गया। जिससे लोगों को रात भर जागकर काटना पड़ी। हालांकि स्थानीय प्रशासन एवं नपा की टीम रात भर रेस्क्यू में जुटी रही। इसी तरह गैरतगंज के ग्राम जुझारपुर रोड़ पर ग्राम झिरनिया जोड़ के आगे रास्ते में 20 से ज्यादा लोग नाले में उफान आने की वजह से फंस गए। जिन्हें गैरतगंज पुलिस ने अभियान चलाकर कर सुरक्षित निकाला गया।