Loading...    
   


JODHPUR MISTHAN BHANDAR GWALIOR: बासी मिठाईयों से नए पकवान बनाए जा रहे थे

ग्वालियर में खान-पान में मिलावट और दूषित सामान बेचने वालों के खिलाफ खाद्य विभाग की मुहिम जारी है। टीम ने आज शहर के जोधपुर मिष्ठान भंडार पर छापा मारा। बासी और ख़राब मिठाइयां और मावा को नये माल में मिलाकर दोबारा नयी मिठाई बनायी जा रही थी। टीम ने इस दुकान से 250 किलो से ज्यादा के दूषित लड्डू, पेड़ा, रसगुल्ला और इमारती बरामद कीं।  छापे के दौरान दुकान के मैनेजर और स्टाफ टीम से अभद्रता की कोशिश की। अब सबके खिलाफ फूड सेफ्टी एक्ट और सरकारी काम में बाधा का मामला दर्ज किया जाएगा। 

अचानक पहुंची टीम, संभलने का मौका नहीं दिया

शानौ शौकत, मिठास और बहादुरा हलवाई पर कार्रवाई के बाद कटोराताल स्थित जोधपुर मिष्ठान भंडार पर एसडीएम सिर्फ पटवारी ज्ञान सिंह को लेकर अचानक पहुंची, इससे संचालक को सावधान होने का मौका नहीं मिला। उन्होंने काउंटर का निरीक्षण किया, कुछ ही मिनट में पीछे खड़े खाद्य विभाग के अधिकारी भी पहुंच गए। प्रतिष्ठान पर पहुंचकर वे काउंटर का निरीक्षण करते-करते अंदर की ओर गईं जहां मिठाई बनाई जा रही थी।

शौचालय के पानी से मिठाईयां बन रहीं थीं

अंदर एक जगह मावा इकट्ठा करके रखा गया था। इससे थोड़ा और अंदर घेवर तैयार किया जा रहा था। इसके कुछ कदम आगे अंदर की ओर मूंग बर्फी सहित अन्य मिठाई बन रही थीं। इसी दौरान अचानक पास में नजर गई तो वहां एक टूटा गेट लगा था, जब इसके बारे में पूछा तो संचालक ने गुमराह करने की कोशिश की, जब आदेश देकर टूटे गेट को हटवाया तो वहां शौचालय दिखा, वह भी बेहद गंदा। इसके सप्लाई के लिए जो पानी की लाइन थी, उसी से मिठाईयां बन रही थीं। इस पूरी जगह के फर्श पर कीचड़ जमी थी और चारों तरफ गंदगी पसरी हुई थी।


भोपाल समाचार: टेलीग्राम पर सब्सक्राइब करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here
भोपाल समाचार: मोबाइल एप डाउनलोड करने के लिए कृपया यहां क्लिक करें Click Here