Loading...

स्कूल से लौटी बेटी तो देखा माँ और बहन जमीन पर मरी पड़ी थीं | JABALPUR NEWS

जबलपुर। गढ़ा थाना क्षेत्र स्थित गंगा सागर, बरसाना मोहल्ला में रहने वाली 28 वर्षीय महिला और उसकी 1 साल की दुधमुंही बच्ची की करंट लगने से मौत हो गई। जानकारों के अनुसार महिला जिस मकान में रहती थी, बारिश के दौरान उस मकान की दीवारें गीली होने व घर के अंदर की बिजली लाइन के तार कटे होने के कारण करंट फैला, जो कि दीवार से सटी आलमारी तक पहुंचा और जैसे ही महिला ने आलमारी खोली, वह आलमारी से चिपक गई। घटना के दौरान महिला की गोद में उसकी बेटी भी थी। सूचना मिलने पर पुलिस ने मर्ग कायम कर प्रकरण जांच में लिया है। 

सूत्रों के अनुसार बरसाना मोहल्ला निवासी बबलू यादव, उम्र 28 वर्ष ने थाने में सूचना दी कि वह सुबह 9 बजे काम करने घर से निकला था। उसे मोहल्ले के लोगों ने 11 बजे के करीब फोन पर पत्नी अर्चना यादव व बेटी कुमारी साझी को करंट लगने की सूचना दी थी । सूचना पाकर दोपहर 12 बजे के करीब वह घर पहुँचा, तो देखा कि मकान के पीछे वाले कमरे में उसकी पत्नी व बेटी बेहोशी की हालात में पड़ी थीं। दोनों को तत्काल 108 एम्बुलेंस से मेडिकल अस्पताल रवाना किया गया। वहां चिकित्सकों ने परीक्षण उपरांत पत्नी व बेटी को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मौके पर पहुँचकर पंचनामा कार्यवाही कर माँ-बेटी के शवों को पीएम के लिए भेज मर्ग कायम कर घटना की जाँच शुरू की। 

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दोपहर में हुई घटना की जानकारी लोगों को उस वक्त लगी, जब मृतका की बड़ी बेटी स्कूल से लौटकर घर पहुँची थी। उसने दरवाजा खटखटाया, लेकिन दरवाजा नहीं खुला, तो पड़ोसियों ने मिलकर किसी तरह मकान का दरवाजा खोलकर देखा, तब उन्हें माँ-बेटी जमीन पर पड़े हुए नजर आए। 

बरसाना मोहल्ले में हुए इस हृदय विदारक हादसे से सनसनी फैल गई और घटना स्थल पर लोगों की भीड़ जमा हो गई। जैसे ही उन्हें माँ-बेटी की मौत की जानकारी लगी, क्षेत्र में मातम छा गया। उधर मृतका की बड़ी बेटी का भी रो-रोकर बुरा हाल है।

घटना की जांच के लिए पहुंचे अधिकारी का कहना है कि घटनास्थल का मुआयना करने पर यह संभावना नजर आ रही है कि महिला अपनी बेटी को गोद में लेकर घर की साफ-सफाई कर रही थी, उसी दौरान उसने आलमारी पकड़ी, जिसमें करंट दौड़ रहा था, जिससे यह हादसा हुआ है।