Loading...

स्मार्ट सिटी के गड्‌ढे में गिरने से टेंट हाउस संचालक की मौत | BHOPAL NEWS

भोपाल। स्मार्ट सिटी के तहत पुराने माता मंदिर बस स्टॉप के पास निर्माणाधीन सड़क के लिए खोदे गए गड्ढे में गिरकर टेंट हाउस संचालक की मौत हो गई। वह किन परिस्थितियों में गड्ढे में गिरा, फिलहाल ये खुलासा नहीं हुआ है। टीटी नगर पुलिस को पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार है। इधर, मृतक के भाई ने गड्ढा खोदने वाली एजेंसी पर लापरवाही का आरोप लगाया है। कहा है कि यदि इस गड्ढे को चारों तरफ से ढंका गया होता तो आज मेरे भाई की जान बच जाती, क्योंकि उसमें केवल आधा फीट पानी था, जिसमें कोई डूब नहीं सकता।    

टीआई संजीव चौकसे ने बताया कि गुरुवार रात करीब 8 बजे प्लेटिनम प्लाजा के सामने गड्ढे में एक युवक का शव नजर आने की सूचना मिली थी। मौके पर पहुंची पुलिस ने मृतक की पहचान आई टाइप क्वार्टर, पुराना माता मंदिर के पास रहने वाले 38 वर्षीय हेमंत रैकवार (Hemant Rackwar) के रूप में की। हेमंत टेंट हाउस संचालक थे। पता चला कि गुरुवार रात हेमंत दोस्तों से मिलने बाइक से प्लेटिनम प्लाजा के पास आए थे। उनकी बाइक गड्ढे से करीब 50 मीटर दूर खड़ी मिली है। वह यहां किन परिस्थितियों में पहुंचे फिलहाल इसका खुलासा नहीं हुआ है। 

हेमंत के छोटे भाई राजेश ने गड्ढे खोदने वाली एजेंसी पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। राजेश के मुताबिक एजेंसी के कर्मचारियों ने सड़क की तरफ तो टिन की चद्दर लगाकर गड्ढे को ढंका है, लेकिन अन्य तीन तरफ से गड्ढे खुले हुए नजर आ रहे हैं। यदि इन्हें चारों ओर से ढंका गया होता तो आज भैया जिंदा होते। 

स्मार्ट सिटी कंपनी नूतन सुभाष स्कूल के पास निर्माणाधीन सरकारी मकानों को बुलेवर्ड स्ट्रीट से जोड़ने के लिए सड़क बना रही है। इसके लिए पुराने माता मंदिर स्टॉप पर खुदाई चल रही है। लेकिन इस खुदाई के लिए सुरक्षा के मापदंडों का पालन नहीं हो रहा। केवल मैन रोड की तरफ दो बैरिकेड लगाए गए हैं। शेष तीन तरफ से साइट खुली हुई है।