Loading...

मात्र 30 हजार का कोर्स, 8 लाख रुपए की नौकरी | CERTIFIED FINANCIAL PLANNER COURSE

ज्यादातर युवा परंपरागत कोर्स (TRADITIONAL COURSE) करते हैं और उन्हीं नौकरियों (JOBS) के पीछे भागते हैं जहां पहले से लम्बी लाइन लगी है पंरतु कुछ क्षेत्र ऐसे भी हैं जहां भरपूर पैसा है। हम आपको एक ऐसे ही कोर्स (PROFESSIONAL COURSE) के बारे में बताने जा रहे हैं। यदि आपका गणित अच्छा है या आप कॉमर्स के छात्र (COMMERCE STUDENT) हैं तो यह आपके लिए सबसे अच्छा विकल्प हो सकता है। यदि नहीं भी है तो गणित अच्छा करने में सिर्फ 30 दिन लगते हैं। हां इस नौकरी में भरपूर पैसा कमाने के लिए क्रिएटिविटी होना बहुत जरूरी है। 

सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर | CERTIFIED FINANCIAL PLANNER COURSE

सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर (CFP) का कोर्स करने के लिए आपको 30,000 रुपए तक खर्च करने होंगे। ये इस कोर्स की पूरी फीस है। सीएफपी का कोर्स करने पर यानी सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर बनने पर आप चाहें तो खुद प्रैक्टिस शुरू कर सकते हैं। इसके अलावा अधिकतर PRIVET BANK, MUTULE FUND HOUSE] INSURANCE COMPANY प्राइवेट सेक्टर बैंक, म्युचुअल फंड्स हाउसेज, इंश्योरेंस कंपनियां इनकी तलाश में रहती हैं। हर वक्त इन कंपनियों में नौकरी की संभावनाएं खुली रहती है।

कौन कर सकता है सीएफपी का कोर्स | CCF COURSE

सीएफपी का कोर्स कोई भी इंश्योरेंस एजेंट, इंश्योरेंस केपीओ प्रोफेशनल्स, कॉमर्स ग्रेजुएट, स्टूडेंट्स भी यह कोर्स कर सकते हैं। फाइनेंशियल प्‍लानिंग में रुचि रखने वाले या इकोनॉमिक्स, मैथ्स के बैकग्राउंड वाले स्टूडेंट्स भी इसे कर सकते हैं।

कहां से करें कोर्स | CCF COURSE INSTITUTE

सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर का कोर्स कई संस्थान कराते हैं। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई), फाइनेंशियल प्लानिंग स्टैंडर्ड बोर्ड ऑफ इंडिया (एफपीएसबीआई), इंटरनेशनल कॉलेज ऑफ फाइनेंशियल प्लानिंग जैसे इंस्टीट्यूट से ये भी कोर्स कर सकते हैं। इनके अलावा कई अन्य यूनिवर्सिटीज भी सीएफपी का कोर्स कराती हैं।

8 लाख रुपए होगी सालाना कमाई | CCF JOB SALARY

सीएफपी का कोर्स या डिग्री हासिल करना बेहद मुश्किल है, लेकिन इसे करने के बाद कमाई की जबरदस्त संभावनाएं हैं। कोर्स करने के बाद नौकरी मिलना काफी आसान है। इसे करने के बाद आप खुद प्रैक्टिक या बिजनेस भी शुरू कर सकते हैं।

अगर आप सीएफपी का कोर्स करते हैं और सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर बनते हैं तो शुरुआती दौर में सालाना कमाई 2 से 4 लाख रुपया मिलेंगे। मिडिल लेवल पर यह कमाई 4 लाख से 8 लाख के बीच होगी और सीनियर लेवल पर सालाना 8 लाख रुपए से ज्यादा कमा सकते हैं।