Loading...

अधिकारियों ने ध्यान नहीं दिया तो हवलदार ने जहर खा लिया | SEONI MP NEWS

जबलपुर। यहां एक हवलदार द्वारा आला अधिकारियों पर प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाते हुए जहर खाकर जान देने की कोशिश की, हवलदार को गंभीर हालत में निजी चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है। इस संबंध में बताया गया है कि  जिले में पदस्थ हवलदार राजेश वर्मा ने सिवनी जिले में तबादला किए जाने पर व्हाट्सएप पर मैसेज पोस्ट कर पुलिस अधिकारियों पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था एवं तबादला निरस्त ना होने पर 48 घंटों के अंदर सुसाइड करने की धमकी दी थी। 

इस मामले में बुधवार को नया मोड़ आ गया जब हवलदार ने किसी जहरीली वस्तु का सेवन कर लिया और उसे गंभीर अवस्था में मार्बल सिटी हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया। उधर परिजनों ने अधिकारियों पर प्रताड़ना के गंभीर आरोप लगाए हैं। ज्ञात हो कि हवलदार राजेश वर्मा द्वारा व्हाट्सएप पर पोस्ट किए गए मैसेज में डीआईजी से लेकर जिले के आईजी डीआईजी एसपी बस्सी एसपी स्तर के अधिकारियों प्रताड़ना का आरोप लगाते हुए न्याय नहीं मिलने पर 48 घंटे में सुसाइड करने की धमकी दी थी। उसके बाद हवलदार लापता हो गया था। इस मैसेज के संज्ञान में आने के बाद उसकी तलाश शुरू हुई और एसपी अमित सिंह ने निर्देशित किया था कि एएसपी क्राइम द्वारा हवलदार का पक्ष सुना जाएगा।

इस घटना के चलते बुधवार शाम हवलदार ने जहरीली वस्तु का सेवन कर लिया। उसे मार्बल सिटी अस्पताल के ICU में भर्ती कराया गया है जहां उसकी हालत चिंताजनक बताई जा रही है। उधर अस्पताल पहुंचे परिजनों ने भी अधिकारियों के खिलाफ प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया है।

पुलिस विभाग मैं तबादला एक विभागीय प्रक्रिया है। इस प्रक्रिया के तहत नियमानुसार किसी भी अधिकारी व कर्मचारी का पूरे प्रदेश में कहीं भी तबादला किया जा सकता है। इसी प्रक्रिया के तहत हवलदार का तबादला किया गया था। 
अमित एसपी