Loading...

मैं कांग्रेस का अध्यक्ष नहीं, पार्टी जिसे चाहे चुन ले: राहुल गांधी | RAHUL GANDHI NEWS

नई दिल्ली। सांसद राहुल गांधी ने मीडिया के सामने स्पष्ट कर दिया है कि अब वो कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष नहीं हैं। पार्टी को अपने नए अध्यक्ष का चुनाव जल्दी से कर लेना चाहिए। यह बयान उन्होंने संसद के बाहर मीडिया से बातचीत के दौरान दिया। बता दें कि राहुल गांधी लोकसभा चुनाव में अशोक गहलोत, पी चिम्बरम और कमलनाथ के पुत्रमोह से नाराज थे। प्रियंका गांधी ने तो तीनों को कांग्रेस का हत्यारा तक कह दिया था। अब तक यह माना जा रहा था कि राहुल का इस्तीफा एक ड्रामा है, रूठने मनाने का खेल चलेगा और सब खत्म हो जाएगा परंतु अब ऐसा होता नजर नहीं आ रहा है। 

राहुल गांधी 25 मई को इस्तीफा दे दिया था

वायनाड से सांसद राहुल गांधी 2017 में कांग्रेस अध्यक्ष बने थे। लोकसभा चुनाव में मिली हार की जिम्मेदारी लेते हुए 25 मई को कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा का ऐलान कर दिया था। हालांकि, पार्टी ने इसे स्वीकार नहीं किया था। पार्टी के वरिष्ठ नेता राहुल के इस्तीफे के खिलाफ थे। उन्होंने सोनिया गांधी से राहुल को मनाने के लिए भी कहा था। लेकिन इसके बाद भी राहुल लगातार इस पर अड़े रहे।

कांग्रेस मुख्यमंत्रियों ने राहुल को मनाने के लिए की थी मुलाकात

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत पांच कांग्रेस शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने साेमवार काे राहुल से मुलाकात कर उनसे पद पर बने रहने की अपील की थी। गहलोत के अलावा इनमें पंजाब के सीएम कै. अमरिंदर सिंह, मप्र के सीएम कमलनाथ, छग के सीएम भूपेश बघेल तथा पुद्दुचेरी के सीएम वी नारायणसामी थे।

शिंदे बन सकते हैं नए अध्यक्ष

राहुल से मुलाकात के बाद सीएम गहलोत ने कहा था, ''हमने राहुल को कांग्रेस नेताओं की भावनाओं से अवगत कराया। मुझे लगता है कि वे सही निर्णय लेंगे।'' माना जा रहा है कि महाराष्ट्र के वरिष्ठ नेता सुशील कुमार शिंदे कांग्रेस के नए अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं।