Loading...

MAKE MY TRIP को हरियाणा की लड़की ने सबक सिखाया | CONSUMER FORUM

यमुनानगर/हरियाणा। लालद्वारा की रहने वाली अनुकृति वाजपेयी ने ONLINE TOUR, TRAVEL AND TICKET बुक करने वाली कंपनी MAKEMYTRIP.COM को अच्छा सबक सिखाया। अनृकृति ने MAKE MY TRIP से एक फ्लाइट का टिकट बुक किया था। जब कैंसिल किया तो कंपनी ने नियम विरुद्ध ज्यादा पैसे काट लिए। अनुकृति ने MAKE MY TRIP के खिलाफ उपभोक्ता फोरम में केस ठोक दिया। फोरम ने कंपनी को सेवा में कमी का दोषी पाया। अनुकृति को उसके पैसे वापस दिलवाए और हर्जाना भी दिलवाया। 

लाल द्वारा की रहने वाली अनुकृति बाजपेई पुत्री अंजू बाजपेई ने फोरम में दस्तावेज देकर बताया कि उसने मेक माई ट्रिप से स्पाइजेट कंपनी की फ्लाइट की दिल्ली से कोच्चि व कोच्चि से दिल्ली की टिकट बुक कराई। जब टिकट बुक कराई तो बताया गया था कि कैंसिल कराने पर सिर्फ पांच फीसदी राशि ही कटेगी। बाकी पैसा वापस अकाउंट में आ जाएगा लेकिन जब किसी कारण से दोनों टिकट कैंसिल हुई तो कंपनी ने 8,883 रुपए में से सिर्फ 1624 रुपए ही अकाउंट में जमा कराए। इससे आहत होकर युवती ने उपभोक्ता अदालत का दरवाजा खटखटाया। 

मामले की सुनवाई के दौरान स्पाईजेट की तरफ से कोई अपना पक्ष रखने नहीं पहुंचा। फोरम ने उसे एक्सपार्टी घोषित कर दिया। मेकमाई ट्रिप की तरफ से कहा गया है कि नियमानुसार ही पैसे वापस किए गए हैं। कहा कि इस केस की सुनवाई यमुनानगर-जगाधरी में नहीं हो सकती। मेकमाई ट्रिप डाट कॉम का आफिस गुड़गांव में है इसलिए सुनवाई वहीं हो सकती है लेकिन टिकट रिफंड के पैसे किस नियम से काटे गए इसका संतोषजनक जबाव वे नहीं दे पाए। 

मेकमाई ट्रिप के अधिवक्ता द्वारा क्षेत्राधिकार का मामला उठाने पर फोरम की तीन सदस्यीय पीठ ने सुप्रीम कोर्ट के एक फैसले का हवाला देकर कहा कि चूंकि टिकिट इंटरनेट से बुक हो रही है इसलिए अनुकृति इसकी शिकायत यमुनानगर-जगाधरी में भी कर सकती है। इसके लिए गुड़गांव में केस करने की जरूरत नहीं है। दोनों पक्षों के अधिवक्ताओं की बहस सुनने व दिए गए प्रमाणों पर गौर करने के बाद फोरम ने अनुकृति बाजपेई के पक्ष में फैसला सुनाया। फोरम ने अनुकृति को 7995 रुपए जिसमें 1664 रुपए पहले मिल चुके हैं। इसलिए 6371 रुपए ​टिकट रिफंड के देने व 8000 हजार रुपए क्षतिपूर्ति के साथ कुल 14371 रुपए भुगतान करने के आदेश दिए।