Loading...

विधवा ने हनी ट्रैप का शिकार बना लिया था, पत्थर पटका, चाकुओं से गोदा, गर्दन काट डाली | JABALPUR NEWS

जबलपुर। सोमवार को सिद्धबाबा के समीप परियट स्थित गहरे नाले में खून से लथपथ मिली महिला की कहानी सामने आ गई है। पुलिस का दावा है कि उसने आरोपी को पकड़ लिया है। आरोपी ने बताया कि इस महिला के पति की मृत्यु हो गई है। पैसों के लिए इसने उसे हनीट्रेप का शिकार बना लिया था। लगातार ब्लैकमेल कर रही थी। तंग आकर उसने विधवा महिला को रास्ते से हटाने के लिए सिर पर पत्थर पटका फिर शरीर को चाकुओं से गोदने व गला रेतने के बाद महिला को मृत समझकर नाले में फेंककर भाग गया। इलाज के दौरान महिला की मौत हो गई। 

खमरिया पुलिस के मुताबिक सोमवार सुबह रांझी निवासी वन रक्षक ने सिद्धबाबा के समीप परियट स्थित गहरे नाले में खून से लथपथ महिला के पड़े होने की सूचना दी। ग्रामीणों की सहायता से नाले से निकालकर महिला को मेडिकल पहुंचाया गया। कुछ देर के लिए होश में आई विधवा महिला मोना प्रजापति (40) निवासी शीतलामाई ने बताया कि सिर पर पत्थर पटकने के बाद शीतलामाई घमापुर निवासी निशांत उर्फ निक्की कोरी (28) पिता सुशील कुमार कोरी ने चाकू से उसके पूरे शरीर पर हमला किया और मृत समझकर नाले में फेंककर भाग गया।

हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर पुलिस ने आरोपित की तलाश शुरू कर दी। घटना की जानकारी मिलते ही एसपी ने आरोपित को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। पुलिस सूत्रों ने बताया कि मामले में एक संदेही को गिरफ्तार किया गया है। जिसने बताया कि घायल महिला निक्की को पैसों के लिए ब्लैकमेल कर रही थी। जिससे त्रस्त होकर निक्की उसे घुमाने व पैसे देने के बहाने स्कूटी पर बैठाकर परियट ले गया और हत्या करने की नीयत से नाले में फेंक दिया।