INDORE की 10 से ज्यादा डेयरी फार्म पर छापामार कार्रवाई | MP NEWS

इंदौर। शैंपू, डिटर्जेंट और केमिकल मिलाकर सिंथेटिक दूध बनाने वाली भिंड जिले के लहार की गिर्राज डेयरी और गोपाल चिलिंग सेंटर पर एसटीएफ की दबिश के बाद प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया है। एसटीएफ द्वारा दोनों प्रतिष्ठानों को सील के करने के बाद फूड सेफ्टी विभाग प्रदेश भर में सिंथेटिक दूध की आशंका के चलते डेयरी और चिलिंग सेंटर की जांच कर रहा है। इसी कड़ी में मंगलवार को शहर में डेयरी फार्म पर जांच के लिए टीम पहुंची।

स्वास्थ्य मंत्री के निर्देश पर खाद्य विभाग ने सुबह इंदौर में डेरी फार्म पर सर्चिंग अभियान चलाया। इस दौरान खाद्य विभाग की टीम शहर की 10 से ज्यादा डेयरी फार्म पर पहुंची और वहां पर दूध के सैंपल लिए गए। कलेक्टर ने अपर कलेक्टर और खाद्य विभाग के अधिकारियों की टीम बनाकर डेरी फार्म पर छापेमार कार्रवाई के आदेश दिए। 

इस दौरान टीम ने देव नारायण मिल्क, महावीर डेरी, मदनी मिल्क और एरोड्रम क्षेत्र की कृष्ण डेरी सहित शहर की अन्य डेरियों पर पहुंचकर दूध के सैंपल लिए। जांच के दौरान कुछ डेयरियों पर टीम को अनियमितताएं भी मिलीं, जिस पर संचालकों को नोटिस दिए गए। 

कार्रवाई के दौरान नायब तहसीलदार मनीष श्रीवास्तव और फूड अधिकारी मनीष स्वामी की टीम ने महावीर डेरी से 510 किलो पनीर जब्त किया है। और दबिश के दौरान लिए गए दूध के सैंपल को टीम ने जांच के लिए लैब भेजा है। रिपोर्ट आने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।