Loading...

GWALIOR NEWS : सुरेंद्र को हनी ट्रेप में फंसा लिया था, इसलिए उसने सुसाइड किया, मामला दर्ज

ग्वालियर। न्यायालय ने सुरेंद्र कुशवाह की आत्महत्या मामले में पड़ौसी परिवार दीपक कुशवाह, लक्ष्मी कुशवाह, पलक, मुस्कान तथा मनीष के खिलाफ आईपीसी की धारा 306 (आत्महत्या का दुष्प्रेरण) का मामला दर्ज करने के आदेश दिए हैं। आरोप है कि पूरे परिवार ने सुरेंद्र को हनी ट्रेप में फंसा लिया था और ब्लैकमेल कर रहे थे। इसी के चलते उसने सुसाइड किया। 

इंदरगंज थाना पुलिस ने बताया कि थाना क्षेत्र के बृज विहार कॉलोनी निवासी सुरेन्द्र कुशवाह ने पांच जनवरी को अपने कमरे में फांसी लगाकर जान दी थी। युवक की मौत के बाद परिजनों ने पास ही रहने वाले एक परिवार पर आत्महत्या के लिए प्रेरित करने और बेटे को झूठे मामले में फंसाने का आरेाप लगाया था। पुलिस मामले की जांच कर रही थी कि तभी मृतक की मां ने पड़ोसी परिवार के खिलाफ न्यायालय में याचिका लगाई। जिस पर न्यायालय ने आरोपी पड़ोसियों के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज करने के निर्देश पुलिस को दिए, जिस पर पुलिस ने दीपक कुशवाह, लक्ष्मी कुशवाह, पलक, मुस्कान तथा मनीष के खिलाफ आत्महत्या के लिए प्रेरित करने का मामला दर्ज किया है। 

मृतक परिवार ने आरोप लगाया था कि उनके बेटे का विवाह सिकन्दर कंपू निवासी युवती से हुआ था, जिसके बाद से पड़ोसी परिवार सुरेन्द्र पर शादी तोडऩे और पड़ोसी युवती से विवाह करने के लिए दबाव बना रहा था और बात ना मानने पर उस पर दुष्कर्म का झूठा मामला दर्ज कराने की धमकी दे रहा था, जिस पर उसने आत्महत्या की थी और मरने से पहले अपना दर्द एक सुसाइड नोट में लिखा था।