CAR में पिता-पुत्री की लाशें मिलीं, रहस्य गहराया, हत्या या आत्महत्या | SAGAR NEWS

भोपाल। सागर शहर के पॉश इलाके सिविल लाइन में एक कार के अंदर पिता-पुत्री का शव और बदहवास हालत में मां मिली। महिला ने अपना नाम राधा चौरसिया बताया। ड्राइविंग सीट पर पिता बृजेश चौरसिया और पास वाली सीट पर 16 वर्षीय बेटी महिमा चौरसिया की लाश पड़ी थी। महिला राधा ने बताया कि उसे नहीं पता कार में ​कब और क्या हुआ। बृजेश ने कोल्ड ड्रिंक पीने के लिए दिया था, तभी से वो बेहोश थी। लेकिन कार के अदंर से कोई रिवाल्वर नहीं मिला है। एक कारतूस कार से 30 फीट दूरी पर मिला है। 

घटना सागर के पॉश इलाके सिविल लाइन में घटी। इस वारदात का पता तब चला जब शहर के नए आरटीओ, पुलिस टीम के साथ रात में गश्त पर निकले। पथरिया रोड पर एक कार दिखाई दी। कार के आसपास कोई नहीं था। कार के अंदर भी किसी तरह की हलचल नहीं हो रही थी। परिस्थितियां संदिग्ध थी। कार के अंदर झांककर देखा तो एक पुरुष, महिला और करीब 16-17 साल की लड़की खून से लथपथ पड़े हुए थे। 

खून से लथपथ बाप बेटी की लाशें

पुलिस फौरन हरक़त में आयी. कार की आगे की सीट पर बैठे दोनों लोगों की मौत हो चुकी थी, जबकि पिछली सीट पर घायल पड़ी महिला कराह रही थी। पड़ताल शुरू की तो पता चला कि ये लाशें सागर में रहने वाले 43 साल के बृजेश चौरसिया और उनकी 16 साल की बेटी एवं 10वीं की छात्रा महिमा चौरसिया की थीं। कार की पिछली सीट पर पड़ीं महिला बजेश चौरसिया की पत्नी थीं जो घायल हालत में कराह रही थीं। महिला को फौरन अस्पताल में भर्ती कराया गया। सुबह करीब 6 बजे परिवार का पता चल पाया और तब उन्हें सूचना दी गयी। परिवार का कहना है बृजेश अपनी पत्नी और बेटी के साथ होटल में खाना खाने का कहकर घर से निकले थे। पुलिस और एफएसएल की टीम जांच कर रही है। मृतक ब्रजेश के साले ने पुलिस को एक लेटर दिया है, पुलिस उसकी पड़ताल कर रही है।

परिवार ने सुसाइड नोट बताया

घटना के बाद परिवार के लोगों ने पुलिस को मृतक का एक सुसाइड नोट सौंपा। जिसके बाद मामला औऱ संदिग्ध बनता जा रहा है। सुसाइट नोट में मृतक पर करोड़ों रुपए के कर्ज के चलते आत्महत्या बात कही गई है। वैसे कथित हत्या में प्रयुक्त हथियार अब तक बरामद नहीं हुआ है। जिस कारण मामला अभी भी संदिग्ध बना हुआ है। पुलिस इस मामले में मृतक की पत्नी से पूछताछ कर रही है।

मामला संदिग्ध क्यों है

परिवार का कहना है कि सुसाइड किया गया है जबकि पत्नी कुछ ठीक से बता नहीं रहीं हैं। उनका कहना है कि घर से निकलते ही ब्रजेश ने उन्हे व बेटी महिला को कोल्ड ड्रिंक पीने के लिए दी थी, इसके बाद उन्हे नहीं पता कि क्या हुआ। पुलिस का मानना है कि जब गोली चलती है तो कितनी भी गहरी नींद में कोई क्यों ना उसकी नींद खुल जाती है।