Loading...

BHOPAL WEATHER FORECAS | सात दिन बाद होगी अच्छी बारिश

भोपाल। शहर में बुधवार को आसमान पर आंशिक बादल छाए हैं, जिससे धूप की चुभन से बीच-बीच में राहत मिल जाती है। बादलों और सूरज के बीच लुकाछिपी का दौर जारी है। बारिश का दौर कमजोर पड़ने और बादलों के छाने से प्रदेश में गर्मी और उमस का असर बढ़ गया है। मौसम विभाग का पूर्वानुमान है कि, आगामी 24 घंटों में आसमान पर बादलों का डेरा रहेगा, मगर बारिश की संभावना कम ही है।  

मौसम वैज्ञानिकों ने प्रदेश में 22 जुलाई के आसपास अच्छी बारिश होने की संभावना व्यक्त की है। मौसम विज्ञान भोपाल केंद्र के मुताबिक, बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनना शुरू हो गया है। इस प्रक्रिया में बुधवार को ट्रफ लाइन (द्रोणिका) भी नागालैंड से खिसक कर नीचे बंगाल की खाड़ी तक आ गई है। इस बीच मंगलवार को सतना में 7 मिमी वर्षा हुई।

पिछले चौबीस घंटों के दाैरान भी जबलपुर संभाग में कहीं कहीं हल्की वर्षा हुई है। बालाघाट में 10 मिमी वर्षा हुई। दूसरी ओर व्यापक वर्षा के अभाव में प्रदेश में तापमान बढ़ने का सिलसिला जारी है। वहीं राज्य के तापमान में बदलाव का दौर जारी है। बुधवार को भोपाल का न्यूनतम तापमान 25.5 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 24, ग्वालियर का 27.5 और जबलपुर का न्यूनतम तापमान 26.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

वहीं, मंगलवार को भोपाल का अधिकतम तापमान 34.6 डिग्री सेल्सियस, इंदौर का 33.3 डिग्री सेल्सियस, ग्वालियर का 36.6 डिग्री सेल्सियस और जबलपुर का अधिकतम तापमान 35.6 डिग्री सेल्सियस रहा। छिंदवाड़ा में अधिकतम तापमान 36 डिग्री है जो सामान्य से 6 डिग्री ज्यादा है। इसी प्रकार जबलपुर, रीवा और खजुराहो में भी तापमान सामान्य से 4 डिग्री से अधिक चल रहा है। अगले चौबीस घंटों के दौरान प्रदेश में कहीं-कहीं गरज चमक के साथ हल्की वर्षा हो सकती है। भोपाल में मौसम शुष्क रहने की संभावना है।