MP NEWS : राज्य आनंद विभाग का वार्षिक कैलेंडर तैयार, अलग-अलग थीम पर होंगे कार्यक्रम

भोपाल। राज्य आनंद विभाग अब वर्षभर अलग-अलग थीम पर आधारित कार्यक्रम कराएगा। इसका उद्देश्य लोगों के जीवन में कम हो रही खुशियां को उन्हें लौटाना है। इसे देखते हुए विभाग ने वार्षिक कैलेंडर तैयार किया है। इसमें उन बातों को लिया गया है, जो प्राय: हम सभी के साथ आए दिन घटती हैं। इसके अलावा धीरे-धीरे रिश्तेदारी में बढ़ती दूरियां और परिवार में बढ़ते तनाव को कैसे कम कर सकते हैं इसे भी शामिल किया है। विभाग इन थीम पर हर महीने जिलास्तर पर कार्यक्रम कराएगा। इन कार्यक्रम की शुरुआत इस महीने से जाएगी। इसके बाद यह निरंतर जून 2020 तक चलेंगे। 

यह कार्यक्रम होंगे : 

इसी प्रकार वर्ष 2020 में जनवरी में स्वीकार्यता थीम पर, फरवरी में लक्ष्यों पर आधारित, मार्च में जागरूकता, अप्रैल से जून तक संगम पर आधारित कार्यक्रम होंगे। 

जुलाई: कृतज्ञता को समर्पित 
कार्यक्रम: इस महीने लोगों को निराशा के भाव से निकालने के लिए कार्यक्रम किए जाएंगे। अधिकांश लोगों का ध्यान इस बात पर केंद्रित रहता है जो उसके पास नहीं होता है। इस कारण वह जीवन में निराश हो जाते हैं। 

अगस्त: खेल को समर्पित 
कार्यक्रम: शारीरिक एवं मानसिक स्तर पर स्वस्थ जीवन के लिए खेलना अनिवार्य है। जीतने के लिए मैदान में उतरना और हार को स्वीकार करने का गुण खेलों से ही सीखा जाता है। इसलिए अगस्त में खेल गतिविधियां कराई जाएंगी। 

सितंबर: अल्पविराम को समर्पित 
कार्यक्रम: रोज की भाग-दौड़ शारीरिक और मानसिक तनाव होना स्वाभाविक है। बाहर से ज्यादा भगदड़ आपके अंदर होती है। इस महीने सिखाया जाएगा कि अल्प विराम करें, जिससे शारीरिक तथा मानसिक स्तर पर शांत रहें। 

अक्टूबर: मदद को समर्पित 
कार्यक्रम: वृक्ष फल और छाया देते हंै। फूल खुशबू, सूर्य रोशनी, समुद्र वर्षा देते हैं। प्रकृति का स्वभाव देने का है। इसमें सिखाया जाएगा कि जो आवश्यक न हो वह सामान जरूरतमंदों को दें। जैसे कि किताब सहित अन्य सामान। 

नवंबर: सीखने को समर्पित 
कार्यक्रम: इस माह कुछ नया करना सिखाया जाएगा। सीखने की उत्सुकता जीवन को गतिमान रखती है। आत्मसम्मान के भाव को मजबूत करती है। इसमें कोई नई किताब, नया खेल और नई जगह भ्रमण आदि कराया जाएगा। 

दिसंबर: संबंधों को समर्पित 
कार्यक्रम: इस महीने संबंधों को किस प्रकार बेहतर बना सकते हैं इसके बारे में सिखाया जाएगा। दूसरों में गुण भी देखें, जिसने चोट पहुंचाई है उसे किस तरह माफ कर सकते हैं इसके बारे में समिनार कराए जाएंगे।