Loading...

अतिथि शिक्षकों के बोनस अंक सिस्टम में नया आदेश जारी होगा: शिक्षामंत्री का आश्वासन | ATITHI SHIKSHAK SAMACHAR

रतीराम गाडगे/टीकमगढ। गत वर्ष में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को वर्तमान सत्र में 2019/20 में प्राथमिकता न मिलने पर अतिथि शिक्षक के सामने संकट के बादल मंडराने लगे है। अब उन्हें रोजगार के लिये। दर दर भटकना पडेगा।

जिले के अतिथि शिक्षकों ने भोपाल समाचार को प्रदेश के शिक्षामंत्री के नाम दिये प्रार्थना पत्र में बताया है। वर्तमान शिक्षा सत्र 2019/20 में शिक्षण कार्य हेतु, अतिथि शिक्षक भर्ती का जो आदेश जारी हुआ है। उस आदेश में गत वर्ष में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को प्राथमिकता नही दी गई। जिससे अब वह भर्ती प्रक्रिया से पृथक हो गये। जिससे उन्हे रोजगार के लिये दर दर भटकता पडेगा। पत्र में अतिथि शिक्षकों ने मांग की है कि आदेश संशोधन कर पुन: जारी किया जाये। और गत वर्ष कार्यरत अतिथि शिक्षकों को उसी संस्था में पहले प्राथमिकता दी जाये। जिससे उन्हे रोजगार के लिये दर दर की ठोकर न खाने पडे।

इस संबंध में प्रदेश के शिक्षा मंत्री प्रभुराम चौधरी ने दूरभाष पर बताया है। कि आदेश में पुन: संशोधन कर गत वर्ष में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को प्राथमिकता देने का आदेश जारी किया जायेगा अभी गत वर्ष में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को बोनस अंक दिये गये है।

इस संबंध में कॉग्रेस पार्टी के वरिष्ट नेता केके मिश्रा ने दूरभाष पर अश्वासन दिया है। कि शिक्षा मंत्री जी से मिलकर बात करेगे और गत वर्ष में कार्यरत अतिथि शिक्षकों को प्राथमिकता दिलाने का पूर्ण अश्वासन दिया।