Loading...

डीईओ सिकरवार को नोटिस जारी, 1200 शिकायतें पेंडिंग | BHIND NEWS

मुरैना। चम्बल संभाग की कमिश्नर श्रीमती रेनू तिवारी ने भिण्ड कलेक्टर श्री छोटे सिंह के प्रतिवेदन पर जिला शिक्षा अधिकारी बीएस सिकरवार को कारण बताओ नोटिस जारी कर 15 दिन में जबाव तलब किया है। जबाव नहीं देने की स्थिति में कमिश्नर ने एक पक्षीय कार्यवाही करने के लिये कहा है। कलेक्टर ने कमिश्नर के पास प्रतिवेदन भेजकर बताया था कि जिला शिक्षा अधिकारी सीएम हेल्पलाइन, टीएल, जनसुनवाई की शिकायतों और उच्च न्यायालय खण्डपीठ ग्वालियर में प्रस्तुत रिटपिटिशन में जबाव प्रस्तुत नहीं कर रहे हैं। इसके बाद कमिश्नर ने नोटिस जारी किया है। 

सीएम हेल्पलाइन की 532, जनसुनवाई की 469 शिकायतें 

कमिश्नर की ओर से जिला शिक्षा अधिकारी सिकरवार को भेजे गये नोटिस में बताया गया है कि सीएम हेल्पलाईन की 532, जनसुनवाई की 469 और टीएल की 228 शिकायतें पेंडिंग हैं। इनमें जिला शिक्षा अधिकारी कोई रूचि नहीं ले रहें है। इसके अलावा उच्च न्यायालय खण्डपीठ ग्वालियर में प्रस्तुत रिट पिटिशन के विरूद्ध जबाव दाव प्रस्तुत न करने से 159 प्रकरण लंबित है। 

कमिश्नर ने पेंडेंसी को लेकर लिखा है कि स्पष्ट है आप जनशिकायतों का निराकरण करने में रूचि नहीं ले रहें है। कमिश्नर श्रीमती तिवारी ने नोटिस में कहा है कि पदीय कर्तव्यों के निर्वहन में लापरवाही एवं उदासीनता का परिलक्षित करता है, जो एक लोकसेवक के पद के अपेक्षित आचरण के विपरीत है। तय समय में जबाव नहीं देने पर जिला शिक्षा अधिकारी सिकरवार की 2 वेतनवृद्धि रोकने की चेतावनी भी दी गई है।